पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी के जन्मदिन पर पुष्पांजलि अर्पित

पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी के जन्मदिन पर पुष्पांजलि अर्पित

भाजपा कार्यालय में राज्यसभा सांसद राजेंद्र गहलोत सहित पार्टी पदाधिकारीयों ने की पुष्पांजलि अर्पित

जोधपुर,पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी के जन्मदिन पर पुष्पांजलि अर्पित।सरदारपुरा स्थित भाजपा जिला कार्यालय में जिलाध्यक्ष देवेंद्र सालेचा के नेतृत्व में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंति पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। पार्टी कार्यालय में सोमवार सुबह आयोजित सभा में राज्यसभा सांसद राजेंद्र गहलोत,प्रदेश महामंत्री व जोधपुर संभाग प्रभारी जगबीर छाबा, महापौर वनिता सेठ,जोधपुर संभाग मीडिया संयोजक जगदीश धाणदिया ने अटल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए अटलजी के जीवन पर उद्बोधन दिया।

यह भी पढ़ें – रामदेव मंदिर में चोरों ने लगाई सेंध

इस अवसर पर राज्यसभा सांसद राजेंद्र गहलोत ने कहा की अटलजी के राजनैतिक जीवन में राष्ट्र ही सर्वोच्च रहा है,उन्होंने अनेकों बार कहा कि पार्टी से बढ़ कर राष्ट्र है। अटलजी अपनी राजनैतिक प्रतिबद्धता के लिए जाने जाते थे।प्रदेश मंत्री जगबीर छाबा ने कहा की वाजपायी का जन्म मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक विनम्र शिक्षक परिवार में हुआ। उन्होंने 1942 के भारत छोड़ो आन्दोलन में भाग लिया,अटलजी ने अपना करियर एक पत्रकार के रूप में शुरू किया और 1951 में भारतीय जनसंघ में शामिल होने के बाद पत्रकारिता छोड़ राष्ट्र निर्माण में जुट गए।

यह भी पढ़ें – दंडित बंदी की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में मौत

श्रद्धांजली सभा को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक देवेंद्र सालेचा ने उद्बोधन में कहा की अटलजी के जीवन का प्रत्येक पहलू हमारे जीवन को प्रेरणा प्रदान करता है,उन्होंने कहा बात 1957 की है जब अटलजी पहली बार सांसद बन कर सदन में पहुंचे। सदन में एक बार पूर्व प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरूजी ने जनसंघ की आलोचना कर दी, इस पर अटल जी ने कहा “मैं यह जानता हूं कि पंडितजी रोज शीर्षासन करते हैं,वह शीर्षासन करें,मुझे कोई आपत्ति नहीं है,मगर मेरी पार्टी की तस्वीर उल्टी न देखें। अटलजी की यह बात सुनकर नेहरूजी खूब हंसे।अटलजी राजनैतिक जीवन में भी बहुत सरल थे,हमें भी इनके जीवन से सीखना चाहिए।

यह भी पढ़ें – घर के सामने खड़ी कार आधी रात में चोर ले गया

सालेचा ने कहा की अटलजी जब पहली बार सांसद बने तब भाजपा नेता जगदीश प्रसाद माथुर और अटल जी दोनो एक साथ चांदनी चौक में रहते थे और दोनों पैदल ही संसद जाते-आते थे। छः महीने बाद जब अटलजी को पहली तनख्वाह मिले तब उन्होंने माथुरजी को कहा आज रिक्शे से चलते है। इतने सरल व्यक्तित्व के धनी थे हमारे अटलजी। अटलजी के जीवन का प्रत्येक पहलू प्रेरणा और शिक्षा प्रदान करता है।भाजपा के जिलाध्यक्ष सालेचा ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंति पर भारतीय जनता पार्टी की ओर से देशभर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिले में बूथ स्तर पर भी कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है।

यह भी पढ़ें – सबइंस्पेक्टर और आरएएस में नौकरी का झांसा देकर 54.40 लाख की ठगी

इस कार्यक्रम में भाजपा जिला महामंत्री विजय राजोरिया,मनीष पुरोहित,उपाध्यक्ष भंवरलाल दैय्या, पदाधिकारी संजय चंदीरमानी,महेंद्र तंवर,अलका थामत,पुरुषोत्तम मूंदड़ा, उपेंद्र दवे,राजेंद्र बोराणा,किशन लड्ढा, शशि प्रजापत,पूर्व जिलाध्यक्ष नरेंद्र कच्छवाहा,महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष कमलेश गोयल,डॉ संगीता सोलंकी, सीमा माथुर,पार्वती जांगीड़,गीता भाटी,नेता प्रतिपक्ष लक्ष्मीनारायण सोलंकी,वरुण धाणदिया,गौरव,राजेंद्र पालीवाल,मंडल अध्यक्ष महेंद्र छंगाणी,भूपेंद्र राज सिंघवी,माधव सिंह परिहार,सुरेश भाटी,सुनील भाटी, श्यामसुंदर गौड़,भेरूदास वैष्णव पंकज भाटी,रफीक लोहार,दिनेश चौधरी,पार्षद डॉ रविन्द्र परिहार, अनिल प्रजापत,अनिल गट्टानी,शिव कुमार सोनी,हंसराज प्रजापत आदित्य गहलोत गणेश बिजनी शशि प्रकाश प्रजापत मुकेश दवे भूपेंद्र राज सिंघवी कबूलाल महेश व्यास कैलाश गौड़ भीमराज राखेचा अशोक खींची धीरज के साथ पार्टी के कार्यकर्ताओ ने श्रद्धेय अटलजी की प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि प्रदान की।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts