सबइंस्पेक्टर और आरएएस में नौकरी का झांसा देकर 54.40 लाख की ठगी

सबइंस्पेक्टर और आरएएस में नौकरी का झांसा देकर 54.40 लाख की ठगी

  • पीड़ित की कोचिंग में एक छात्रा से हुई थी पहचान
  • झांसे में लेकर किया ठगी

जोधपुर,सबइंस्पेक्टर और आरएएस में नौकरी का झांसा देकर 54.40 लाख की ठगी। शहर के झालामंड पुलिस चौकी के सामने रहने वाले एक युवक को एसआई और आरएएस की नौकरी लगाने के नाम पर 54.40 लाख की ठगी कर ली गई। युवक से एसआई के नाम पर 12.50 लाख बाकी आरएएस के नाम पर ठगे गए। ठगने वाली उसकी सहपाठी थी जो कोचिंग संस्थान में हुई पहचान के बाद फोन कर पहचान को आगे बढ़ाया और ठगी का शिकार बना डाला। पीडि़त ने युवती सहित आधा दर्जन लोगों के खिलाफ अब धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करवाया है।

यह भी पढ़ें – घर की बहादुर बेटी ने टाल दी लाखों की नकबजनी

झालामंड पुलिस के चौकी के सामने रहने वाले कैलाश पुत्र भीखाराम प्रजापत की तरफ से कुड़ी भगतासनी थाने में रिपोर्ट दी गई। इसमें बताया कि वह 13 जुलाई 15 को रातानाडा स्थित एक कोचिंग संस्थान में एसआई की तैयारी कर रहा था। जहां पर संजू चौधरी नाम की युवती से पहचान हो गई थी। उसके साथ में दो साल यानी 2017 तक पढ़ाई की। तब काफी पहचान हो चुकी थी। इस वर्ष 2023 में संजू चौधरी का किसी नंबर से कॉल आया कि वह संजू चौधरी बोल रही है और साथ में कोचिंग करते थे। तब पहचान फिर से होने पर संजू ने बताया कि वह उसकी एसआई की नौकरी लगवा सकती है। इसके लिए उसने अपने धर्म भाई सुखदेव से बात कराई थी। सुखदेव ने कहा एसआई नौकरी के लिए 12.50 लाख लगेंगे। तब वह इनके झांसे में आ गया। इस पर पीडि़त ने दस लाख रुपए अपने पिता के मामा के खाते के जरिए फोन से ट्रांसफर करवाए बाकी रकम अन्य तरीके से दी। कुछ दिनों तक इनके बीच में नौक री को लेकर वार्तालाप चलता रहा। फिर एक दिन संजू ने बताया कि उसका धर्म भाई आरएएस में नौकरी लगवा सकता है इसके लिए फिर से बात करने कहा। विश्वास में लेकर सुखदेव ने कहा इसके लिए 15-20 लाख लगेंगे। तब पीडि़त कैलाश ने इधर उधर से रुपयों का जुगाडक़र सुखदेव के बताए अनुसार मोहित सांखला एवं मनीष कुमार के खातों में रुपयों का ट्रांसफर करवाया। बाद में यह लोग लगातार रुपयों की डिमाण्ड करते रहे। कुल मिलाकर 54.40 लाख रुपए इन लोगों को दे दिए। हाल में 23 दिसम्बर को संजू चौधरी ने फिर से कॉल कर 2.72 लाख रुपए मांगे। अब पीडि़त ने ठगी का शिकार होने पर इन सभी के खिलाफ धोखाधड़ी की रिपोर्ट दी है।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts