हिस्ट्रीशीटर मांगीलाल नोखड़ा का नाम लेकर हफ्ता वसूली

-डंपर चालक से 25 हजार मांगे

-मना करने पर गाड़ी के शीशे फोड़े -पिस्टल दिखाकर जेब से निकाले 27 सौ रूपए

जोधपुर,शहर के हाइवे पर ट्रकें और डंपर लेकर चलने वाले चालकों को हफ्ता वसूली के लिए धमकाया जा रहा है। एक और डंपर चालक से मारपीट कर गाड़ी चलाने की परमिशन के नाम पर 25 हजार मांगे गए। रूपए नहीं दिए जाने की बात पर मारपीट की,पिस्टल दिखाकर जेब से 2530 रूपए लूट लिए गए। बदमाश खुद को हिस्ट्रीशीटर मांगीलाल नोखड़ा का आदमी बताकर लूटपाट कर रहे हैं। इस सप्ताह में यह दूसरा केस सामने आया है। इससे पहले बनाड़ थाने में केस दर्ज हुआ था।

खेजड़लीकलां लूणी के रहने वाले श्यामलाल पुत्र रामूराम जाट ने माता का थान पुलिस में रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि वह 26 नवंबर को अपना खाली डंपर लेकर क्रेशर से मूंगियां भरने जा रहा था। जब वह डंपर लेकर माता का थान आंगणवा चौराहा के पास में पहुंचा तो एक बोलेरो में पांच छह लोग और एक पिकअप ने उसके डंपर के आगे अपनी गाड़ी को लगाकर उसे रूकवाया। उसमें अशोक बेनिवाल नाम के शख्स ने खुद को मांगीलाल नोखड़ा का आदमी होना बताया और मार्ग पर डंपर चलाने के लिए 25 हजार का हफ्ता मांगा। रूपए देने में असमर्थता जताने पर अशोक बेनिवाल उसके डंपर पर चढ़ गया और उसे पिस्टल दिखाकर धमकाने के साथ जेब से 2730 रूपए निकाल लिए। उसके साथ में श्याम लाल पुत्र हरसुखराम,ओमाराम पुत्र जोराराम,परसाराम भवाद आदि भी थे। इन लोगों ने उसके डंपर पर पत्थर फेेंककर शीशे फोड़ दिए।

पीडि़त का आरोप है कि वह डंपर लेकर भागने लगा तो इन लोगों ने उसका पीछा करने के साथ पत्थर फेंकते रहे।माता का थान पुलिस ने अब अशोक बेनिवाल पुत्र लादूराम बेनिवाल सहित उक्त लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इसी सप्ताह में एक और मामला बनाड़ थाने में हफ्ता वसूली को लेकर दर्ज हुआ था। जिसमें भी उक्त लोग नामजद थे। पूर्व में भी बनाड़ और मंडोर थाने में केस दर्ज हो रखे हैं। मगर पुलिस अभी तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।