9 करोड़ की ठगी में वांछित दो आरोपी गिरफ्तार

9 करोड़ की ठगी में वांछित दो आरोपी गिरफ्तार

  • सीआईडी की सूचना पर साइबर थाना पुलिस जोधपुर की कार्रवाई
  • आरबीएल बैंक से की थी ठगी

जयपुर/जोधपुर,9 करोड़ की ठगी में वांछित दो आरोपी गिरफ्तार। पुलिस मुख्यालय सीआईडी क्राइम ब्रांच स्पेशल टीम की सूचना पर जोधपुर जिले की साइबर थाना पुलिस ने शनिवार को आरबीएल बैंक के साथ 9 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार दोनों आरोपी हिमांशु प्रजापत पुत्र प्रकाश कुमार व सचिन राठौड़ पुत्र भवानी सिंह जोधपुर निवासी हैं।

यह भी पढ़ें – एसके जोधपुर मैराथन रविवार को

अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस अपराध दिनेश एमएन ने बताया कि अगस्त महीने में जोधपुर के साइबर थाना में 9 करोड़ रुपए की साइबर ठगी के संबंध में मुकदमा दर्ज हुआ था। बैंक के क्रेडिट कार्ड धारकों ने बैंक सर्वर को हैक कर ऑनलाइन अपने रुपए जमा बता कर बैंक से नगद राशि का आहरण किया था। मामले में साइबर थाना पुलिस जोधपुर द्वारा पूर्व में छह आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। घटना के मुख्य आरोपी और सह अभियुक्तों की तलाश के दौरान सीआईडी टीम के हेड कांस्टेबल राकेश जाखड़ को इन दोनों अभियुक्तों के बारे में आसूचना प्राप्त हुई। एडीजी एमएन ने बताया कि आसूचना की पुष्टि के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आशा राम चौधरी के सुपरविजन एवं पुलिस निरीक्षक सुभाष सिंह तंवर के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल राकेश,रविंद्र सिंह,महेश और कांस्टेबल नरेश की टीम गठित की गई। गठित टीम द्वारा सूचना को डवलप किया। शनिवार को टीम की सूचना पर साइबर थाना पुलिस जोधपुर द्वारा आरोपी हिमांशु प्रजापत और सचिन राठौड को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें – जोधपुर के मिलन को खेलो इंडिया पैरा पॉवर लिफ्टिंग में रजत पदक

यह है मामला
आरबीएल बैंक लिमिटेड जयपुर के सहायक उप प्रबंधक निखिल पुरोहित ने साइबर थाना जोधपुर में 29 अगस्त 2023 को एक रिपोर्ट दी थी। जिसमें बताया कि मसूरिया कॉलोनी शास्त्री नगर में उनकी बैंक की शाखा है। बैंक के कुछ क्रेडिट कार्ड धारकों ने कुछ व्यापारियों के साथ मिलीभगत कर 9 करोड़ रुपए की ठगी की।कार्ड धारकों व अन्य ने धोखाधड़ी करने के लिए पूर्व नियोजित उद्देश्य के साथ बैंक सर्वर से छेड़छाड़ कर कंप्यूटर सिस्टम या कंप्यूटर नेटवर्क को हैक कर साइबर ठगी की है। ठगी का यह कार्य जुलाई से 16 अगस्त 2023 तक किया गया।आरोपी राशि का भुगतान करने से मना कर रहे हैं। बैंक द्वारा संपर्क करने पर बैंक के अधिकारियों को गंभीर परिणाम करने की धमकी दी है।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts