सुचारु पेयजल प्रबन्धन के लिए जन-सहयोग अपेक्षित-कलेक्टर

सुचारु पेयजल प्रबन्धन के लिए जन-सहयोग अपेक्षित-कलेक्टर

नहरबंदी की अवधि बढ़ने पर जिला कलेक्टर जोधपुर वासियों से अपील

जोधपुर, जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता ने नहरबन्दी अवधि में वृद्धि पर जिले में सम्भावित पेयजल समस्याओं से निपटने के लिए आमजन को जिला प्रशासन जोधपुर व जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा की जा रही पेयजल प्रबन्धन व्यवस्था की जानकारी दी और इन परिस्थिति में प्रशासन के प्रबन्धों में सहयोग का आह्वान किया।

नहरबन्दी की अवधि बढ़ने का कारण

जिला कलक्टर ने बताया कि जोधपुर की जलापूर्ति का मुख्य स्रोत इन्दिरा गांधी नहर है जिसकी पंजाब तथा राजस्थान में मरम्मत के लिए इस साल 60 दिनों की नहरबंदी वर्तमान में लागू है। प्रस्तावित योजना अनुसार नहर का पानी 21 मई, शनिवार को पंजाब से होकर 28 मई तक जोधपुर पहुंचना था किन्तु सरहिन्द फिडर के पास मुख्य नहर टूट जाने के कारण इस नहर का पानी अब सम्भावित तौर पर 23 मई को छोड़ा जायेगा, जिसके अनुसार अब यह पानी 28 मई के स्थान पर 02 जून तक जोधपुर पहुंचेगा।

जल संग्रहण की अपील

उन्होंने बताया कि पूर्व में प्रस्तावित नहरबंदी के अनुरूप ही जोधपुर में जल संग्रहण की तैयारी की गयी थी, जिसके अन्तर्गत पर्याप्त मात्रा में पोंडिंग व्यवस्था भी की गई थी। लेकिन अब नहरबंदी की अवधि में वृद्धि को देखते हुए जिला कलेक्टर ने सभी जोधपुर वासियों से जल संग्रहण की अपील की है।

अब तीन दिन में होगा शटडाउन

उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन सम्भावित पेयजल समस्या से निपटने के लिए पेयजल प्रबन्धन व्यस्था को सुदृढ़ बनाने की दृष्टि से व्यापक स्तर पर ऐहतियाती उपायों के साथ प्रभावी कार्ययोजना द्वारा शहर की पेयजल व्यवस्था को सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके अन्तर्गत तखतसागर, कायलाना और सुरपुरा जलाशय से होने वाली जल आपूर्ति में जहां पहले विभाग द्वारा साप्ताहिक शटडाउन किया जा रहा था, वहीं अब इसे घटाकर तीन दिन में किया जाएगा।

18 जोन में 9 अधिकारी करेंगे जलापूर्ति व्यवस्था सुनिश्चित

उन्होंने बताया कि आमजन की सुविधा के लिए जोधपुर शहर को अठारह जोन में विभाजित कर नौ आरएएस अधिकारियों को क्षेत्रवार पीएचईडी की जोन्स में लगाया गया है, जो शहर में नहरबंदी के दौरान पीएचईडी के अधिकारियों के साथ शहर की जलापूर्ति की व्यवस्था के पर्यवेक्षण व सुचारु रखने के लिए जिम्मेदार होंगे। उन्होंने बताया कि आमजन की सुविधा के लिए प्रशासन व विभाग द्वारा पर्याप्त मात्रा में टेंकर जल परिवहन की सुविधा सुनिश्चित की जायेगी।

आमजन का सहयोग अपेक्षित

उन्होंने जोधपुर वासियों से सम्भावित पेयजल समस्या को देखते हुए प्रशासन को सहयोग देने की अपील की है। उन्होंने कहा कि इस मुहिम में आमजन से जल का दुरुपयोग न करने तथा जल संग्रहण कर प्रशासन का सहयोग अपेक्षित है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews