पाक विस्थापित डॉक्टर से पहले कराया इलाज, फिर नकली धातु देकर 5.50 लाख की ठगी

पाक विस्थापित डॉक्टर से पहले कराया इलाज, फिर नकली धातु देकर 5.50 लाख की ठगी

  • डॉक्टर रूपए लोन लेकर आया था
  • चेन का सौदा 15 लाख में तय हुआ

जोधपुर,शहर के निकट नयापुरा चौखा गांव में निजी क्लिनिक चलाने वाले पाक विस्थापित डॉक्टर से साढ़ेे पांच लाख की ठगी कर ली गई। इलाज के बहाने आए दो तीन शातिरों ने सोने की चेन के बदले में नकली धातु थमाया और रकम ले उड़े। यह रूपए डॉक्टर ने लोन लेकर जमा किए थे। घटनाक्रम 12 से 30 अप्रेल तक हुआ। अब डॉक्टर चेन नकली होने का पता लगा। पीडि़त ने इस बारे में शास्त्रीनगर थाने में रिपोर्ट दी है।

शास्त्रीनगर पुलिस ने बताया कि नयापुरा चौखा निवासी ओमप्रकाश पुत्र खींमचंद सोलंकी पाक विस्थापित है। वह अपना निजी क्लिनिक चलाता है। 12 अप्रैल को उसके क्लिनिक पर दो तीन लोग बीमारी के इलाज के लिए आए थे। तब इलाज के समय ही बातों में लेकर अपने पास में कुछ चांदी होना बताया। जो सस्ते दाम पर देना बताया। इसके बाद में ओमप्रकाश को सोने की एक चेन दिखाई। डेढ़ किलो वजनी चेन का आगे का टुकड़ा दिया और कहा कि यदि वे इसे खरीदना चाहे तो सस्ते दाम में दे सकते हैं।

पाक विस्थापित डॉक्टर ओमप्रकाश उनके झांसे में आ गया। उसे चेन का टुकड़ा दिया गया जो जांच में 24 कैरेट सोने का निकला। तब चेन का सौदा 15 लाख में तय किया गया। मगर आखिरकार बात साढ़े पांच लाख में बनी। तब 30 अप्रेल को डॉक्टर को मथुरादास माथुर अस्पताल के पास में एक गली में बुलाया गया। जहां पर डेढ़ किलो वजनी सोने की चेन का साढ़े पांच लाख देकर खरीद लिया गया। डॉक्टर ने यह रकम एक बैंक से लोन लेकर ली थी। अब जब उस चेन को फिर से चैक करवाया तो वह महज धातु का टुकड़ा निकली। पीडि़त रविवार को शास्त्रीनगर थाने पहुंचा और केस दर्ज करवाया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews