families-of-freedom-fighters-honored

स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों का किया सम्मान

  • पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव
  • शास्त्रीजी को पुण्यतिथि पर पुष्पांजलि

जोधपुर,पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव स्थल पर बुधवार को पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की पुण्यतिथि पर पुष्पांजलि अर्पित कर जोधपुर जिले के करीब 60 स्वतंत्रता सैनानियों के परिजनों को सम्मानित किया गया। राजस्थान राज्य उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग के चैयरमेन न्यायाधीश देवेन्द्र कच्छावा ने मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री सादगी की प्रतिमूर्ति थे और वे सेना के जवानों और किसानों के विजन को पहचान देने वाले महान व्यक्तित्व रहे। उन्होंने देश के जवानों एवं किसानों के कल्याण के लिए कार्यरत रहने का संकल्प लेते हुए जय जवान जय किसान का नारा दिया।

संभागीय आयुक्त कैलाशचंद मीणा ने कहा कि लालबहादुर शास्त्री के बताये मार्गों को देशवासियों द्वारा अनुकरण किया जाना भी एक उपलब्धि है। उनके हर आदर्श जीवन की हर चुनौतियों का सामना करना सिखाती है। जोधपुर नगर निगम उत्तर की महापौर कुंती देवड़ा ने कहा कि शास्त्री जी ने युवाओं को नई सोच व राष्ट्र के उत्थान के लिए मानसिकता विकसित करने का आह्वान किया। शास्त्री जी के अनुसार जीवन के बहुआयामी सूत्रों को अपनाकर जीवन को सरल एवं सादगी के साथ संचालित किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें- बैंक मैनेजर पार्ट टाइम जॉब के लिए आया झांसे में,28 लाख गवां बैठा

families-of-freedom-fighters-honored

राजस्थान जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के सदस्य डाॅ. अजय त्रिवेदी ने कहा कि शास्त्री जी गांधी दर्शन के ही प्रणेता थे। उन्होंने कहा कि गांधीजी के जीवन और कार्यों के साथ आज भी उनकी उपादेयता उसी तरह विद्यमान है। उन्होंने शास्त्री जी के व्यावहारिक जीवन एवं नैतिकता के विभिन्न पहलुओं पर भी प्रकाश डाला।

उत्सव संयोजक सुनील परिहार ने कहा कि शास्त्री जी को स्मरण करना आज के परिप्रेक्ष्य में युवाओं के लिए बहुत बड़ा आदर्श है। भारत के विकास और समाज में व्यक्तिगत जीवन की नैतिकताओं के लिए शास्त्री जी से बेहतर कोई उदाहरण नहीं है। उन्होंने कहा कि उत्सव में अमृत महोत्सव के तहत आज शास्त्री जी को याद करना हमारे लिए एक उपलब्धि है।

अमृत महोत्सव समिति के जिला संयोजक एवं आज के कार्यक्रम के समन्वयक ओमकार वर्मा ने समिति द्वारा वर्ष पर्यन्त आयोजित की जाने वाली गतिविधियों पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि स्वामी विवेकानंद जी की जयंति पर गुरूवार को मेला स्थल पर वीर सैनिकों का सम्मान समारोह रखा गया है।

ये भी पढ़ें- हावड़ा-जोधपुर,बीकानेर-हावड़ा का विन्घ्याचल स्टेशन पर ठहराव

आरंभ में एमआईए के पूर्व अध्यक्ष प्रदीप डाकलिया ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम के अंत में जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक एवं उत्सव आयोजन सचिव एसएल पालीवाल ने सभी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन उत्सव पीआरओ प्रमोद सिंघल एवं एमआईए सचिव निलेश संचेती ने किया।

गणेश पूजन:उत्सव स्थल पर बुधवार को हुए गणपति पूजन के अवसर पर उप रेलवे,जोधपुर की मण्डल रेल प्रबंधक गीतिका पाण्डेय,जोधपुर डिस्काॅम के प्रबंध निदेशक प्रमोद टाक,एमबीएम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.अजयकुमार शर्मा,रेलवे के असिस्टेंट ऑपरेशन मैनेजर जगदीश चौधरी,वाणिज्यिक कर जोधपुर जोन -।। के अतिरिक्त आयुक्त विनोद मेहता,एमडीएम हाॅस्पिटल के अधीक्षक डाॅ.विकास राजपुरोहित, डाॅ.एसएन मेडिकल काॅलेज के प्रिंसिपल डाॅ. दिलीप कच्छवाह, जोधपुर डिस्काॅम के जोनल चीफ इंजीयिनर एमएस चारण,जोधपुर डिस्काॅम के अधीक्षण अभियंता-शहर ओपी सुथार,अधिशाषी अभियंता पाबूराम सियाग,वरिष्ठ उद्यमी प्रकाश जीरावला,सत्यनारायण धूत,पारसमल धारीवाल,खेमचंद खत्री सहित एमआईए के पूर्व अध्यक्ष कैलाश एन. कंसारा,कमल मेहता,एसके शर्मा, कमल सिंघवी,उमेश लीला, प्रदीप डाकलिया,उपेन्द्र भंसाली,योगेश माहेश्वरी एवं ज्ञानीराम मालू,अध्यक्ष भंवरलाल चौपड़ा,उपाध्यक्ष नरेश बोथरा, मुकेश खत्री,सचिव निलेश संचेती,सहसचिव गोविंद अग्रवाल एवं गुमानाराम जांगिड़,कोषाध्यक्ष पंकज राठी,मेलाधिकारी राजेश सोलंकी, पार्षद योगेश गहलोत सहित उत्सव आयोजन समिति के अन्य पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित थे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews