chief-minister-met-the-injured-of-jodhpur-mathania-bypass-accident

जोधपुर-मथानिया बाईपास दुर्घटना के घायलों से मिले मुख्यमंत्री

  • मुख्यमंत्री ने अस्पताल पहुंचकर घायलों से पूछी कुशलक्षेम
  • दुर्घटना की जानकारी मिलने पर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम में बदलाव कर पहुंचे अस्पताल
  • घायलों और उनके परिजनों से मिलकर शीघ्र स्वस्थ होने की कामना
  • चिकित्सकों को दिए घायलों के समुचित इलाज के निर्देश

जोधपुर,मुख्यमंत्री अशोक गहलोत शुक्रवार शाम जोधपुर के मथुरादास माथुर अस्पताल में जोधपुर-मथानिया सड़क दुर्घटना में घायल हुए लोगों से मिलने पहुंचे। यहां उन्होंने घायलों और उनके परिजनों से मुलाकात कर कुशलक्षेम पूछी। गहलोत ने चिकित्सकों से बात कर घायलों के स्वास्थ्य की जानकारी ली और घायलों के समुचित इलाज के लिए निर्देश दिए।

गहलोत ने दुर्घटना को हृदय विदारक बताते हुए घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए कामना की। इस दौरान गहलोत ने जिला प्रशासन को सड़क दुर्घटनाओं के प्रभावी रोकथाम के लिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाएं होना दुर्भाग्यजनक एवं चिन्ता का विषय है। प्रदेशवासियों से तेज गति में वाहन नहीं चलाने और यातायात नियमों की पालना करने का भी आह्वान किया।

ये भी पढ़ें- भीषण सड़क हादसे में चार की मौत, 26 घायल

chief-minister-met-the-injured-of-jodhpur-mathania-bypass-accident
मुख्यमंत्री ने सड़क दुर्घटना में 4 लोगों की मृत्यु पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि विपदा की इस घड़ी में राज्य सरकार शोकाकुल परिजनों के साथ है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगतों की आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को यह आघात सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए प्रार्थना की। इस दौरान पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा,जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता सहित जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी साथ थे।

मुख्यमंत्री सहायता कोष से मिलेगी सहायता राशि

गहलोत ने घायलों से मिलने के बाद कहा कि उन्हें सहायता राशि उपलब्ध कराई जाएगी। इसमें मुख्यमंत्री सहायता कोष से मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपए और घायलों को एक-एक लाख रुपए दिए जाएंगे।

ये भी पढ़ें- अवैध गैस रिफ्लिंग करते तीन गिरफ्तार,24 सिलेण्डर जब्त

chief-minister-met-the-injured-of-jodhpur-mathania-bypass-accident

मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता,कार्यक्रम में किया बदलाव

मुख्यमंत्री ने सड़क दुर्घटना की जानकारी मिलने पर अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम में बदलाव किया। वे जोधपुर एयरपोर्ट से सीधे ही मथुरादास माथुर अस्पताल पहुंचे। पूर्व में एयरपोर्ट से सीधे ही पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव में जाने का कार्यक्रम था लेकिन कार्यक्रम में बदलाव कर वे सीधे मथुरादास माथुर अस्पताल पहुंचे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews