राजस्थान को 9782 करोड़ का रेल बजट आवंटित

राजस्थान को 9782 करोड़ का रेल बजट आवंटित

  • बजट में जोधपुर मंडल पर रेल संबंधित बिंदुओं पर प्रेस वार्ता
  • वंदे भारत स्तर के 40 हजार डिब्बे ट्रेनों में लगाए जाएंगे

जोधपुर,राजस्थान को 9782 करोड़ का रेल बजट आवंटित। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने आज पेश किए केंद्रीय अंतरिम बजट 2024 में शामिल रेलवे संबंधित बिंदुओं पर दिल्ली में प्रेस से चर्चा की। सभी जोनल रेलवे को ऑनलाइन जोड़ा गया। महाप्रबंधक उत्तर पश्चिम रेलवे अमिताभ सहित जोधपुर मंडल व उत्तर पश्चिम रेलवे के अन्य तीन मंडल अजमेर,जयपुर व बीकानेर के मंडल रेल प्रबंधक व अन्य अधिकारी इससे ऑनलाइन जुड़े। जोधपुर से मंडल रेल प्रबंधक पंकज कुमार सिंह व वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विकास खेड़ा तथा प्रेस मीडिया प्रतिनिधि मंडल कार्यालय के सभागार कक्ष से इस प्रेस वार्ता से जुड़े।

यह भी पढ़ें – निर्माणाधीन भवन से आरसीसी प्लेटें चुराने वाले दो गिरफ्तार

रेल मंत्री व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री भारत सरकार अश्विनी वैष्णव ने जानकारी दी कि गत 10 वर्षों में भारतीय रेल ने अद्वितीय विकास किया है। 10 वर्षों पूर्व के मुकाबले कई गुना बजट राज्यों में विभिन्न रेल परियोजनाओं के लिए दिया गया है। लगातार विभिन्न यात्री सुविधाओं में वृद्धि की जा रही है,अमृत स्टेशन बनाए जा रहे हैं,एक स्टेशन एक उत्पाद स्टॉल लगाई जा रही है। विद्युतीकरण,दोहरीकरण व नई लाइन डालने का कार्य तीव्र गति से जारी है। नई वंदेभारत ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। वंदे भारत स्तर के 40 हजार डिब्बे ट्रेनों में लगाए जाएंगे। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने जानकारी दी कि 2009 से 2014 में राजस्थान को 682 करोड़ का बजट मिला था जबकि 2024 -25 के बजट में राजस्थान को 9782 करोड़ का बजट आवंटित किया गया है। राजस्थान में 98 प्रतिशत रेल मार्ग का विद्युतीकरण कार्य पूर्ण हो चुका है। 85 स्टेशनों को अमृत स्टेशन बनाया जा रहा है। 1367 फ्लाईओवर व अंडरपास पिछले 10 वर्षों में राजस्थान में रेल मार्ग के अंतर्गत बनाए गए हैं। 54 स्टेशनों पर वन स्टेशन वन प्रोडक्ट स्टॉल लगाई गई है।

यह भी पढ़ें – आयुर्वेद विश्वविद्यालय में दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी शुक्रवार से

डीआरएम ने बताया विकासोन्मुखी बजट
जोधपुर डीआरएम पंकज कुमार सिंह ने गुरुवार को पेश किए गए बजट को रेलवे की दृष्टि से भी विकासोन्मुखी बताया। आम बजट पर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव की वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद डीआरएम ने कहा कि राजस्थान को आवंटित बजट प्रावधानों से नए कार्यों के साथ पहले से चल रही विकास परियोजनाओं को और गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के बाद रेलमंत्री ने राजस्थान को आवंटित बजट पर फोकस किया जिससे यह स्पष्ट हो जाता है कि आने वाले वर्षों में राजस्थान में यात्री सुविधाओं में वृद्धि के उद्देश्य से रेलवे को अधिक जिम्मेदारियां मिलेंगी और नई परियोजनाएं धरातल पर लाई जाएंगी।
डीआरएम ने कहा कि जोधपुर मंडल में जोधपुर व जैसलमेर रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास के साथ ही अमृत स्टेशन योजना के तहत 15 प्रमुख रेलवे स्टेशनों का भी कायाकल्प किया जा रहा जिससे यात्री सुविधा में विस्तार होगा। इसके अलावा दोहरी करण और विद्युतीकरण कार्य पूरे होने के बाद न सिर्फ पर्यटक आकर्षित होंगे बल्कि प्रदेश का चंहुमुखी विकास भी होगा।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts