परिवाद की जांच पर गए सबइंस्पेक्टर पर हमला, तीन लोग चोटिल

परिवाद की जांच पर गए सबइंस्पेक्टर पर हमला, तीन लोग चोटिल

घर मेंं घुसकर कब्जा

जोधपुर, निकटतर्वी मोगड़ा गांव में एक प्लॉट पर कब्जे की बात को लेकर मिले परिवाद पर पुलिस जांच के लिए गई। तब कब्जा करने वाले एक परिवार ने कुड़ी थाने के सबइंस्पेक्टर पर हमला कर दिया। हमले में सबइंस्पेक्टर सहित दो तीन अन्य घायल हो गए। पुलिस की वर्दी भी फट गई। बाद में पुलिस जाब्ते को बुलारक परिवार के छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया।

कुड़ी थाने के सबइंस्पेक्टर कानाराम ने बताया कि मोगड़ा निवासी रामचंद्र वैष्णव की तरफ से एक परिवाद दिया गया था। जिसमें उसने अपने घर में पीछे की दीवार तोड़ कर लुकमान पुत्र जब्बार खां के परिवार द्वारा कब्जा करने की बात कही। इस परिवाद की जांच के लिए सबइंस्पेक्टर कानाराम मोगड़ा गए। जांच करने के समय लुकमान पुत्र जब्बार खां के परिवार के लोगों, गुलाब शाह पत्नी चांद मोहम्मद, कुकी पत्नी मुखतार खां, मांगूड़ी पत्नी शौकत खां और सायरा आदि ने विरोध जताने के साथ पुलिस पर पाइप आदि हथियारों से हमला कर दिया। इससे सबइंस्पेक्टर काना राम चोटिल होने के साथ उनकी वर्दी फट गई। हंगामें के बीच आस पास एकत्र हुए लोगों पर भी इन लोगों ने हमला कर दिया। जिससे एक दो अन्य भी चोटिल हो गए।

सबइंस्पेक्ट कानाराम के अनुसार रामचंद्र वैष्णव ने यह मकान किसी पोकराम के परिवार से खरीद किया था। पोकरराम की दो साल पूर्व कोरोना से मौत हो गई थी। तब पोकर के परिवार के लोगों ने लिखापढ़ी कर यह मकान रामचंद्र को बेचा था। पोकरराम के परिवार ने यह मकान जब्बार खां से कई साल पहले खरीदा था और जब्बार खां ने लोन ले रखा था। जिसे चुकता कर दिया गया था। जब्बार खां की भी मृत्यु हो चुकी है। मगर उसके परिवार के लोग अब भी उक्त मकान को खुद को बता रहे हैं जबकि मकान खरीद के सारे दस्तावेज कानूनी तौर पर सही पाए गए हैं। रामचंद्र के मकान में बिना वजह तोडफ़ोड़ कर कब्जा कर लिया गया। पुलिस ने इस घटना में नामजद आरोपियों को अब शांतिभंग में गिरफ्तार कर लिया है। अग्रिम अनुसंधान एसआई विश्राम मीणा की तरफ से किया जा रहा है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें –http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews