145 कोविड सेंटरों पर किशोरों को टीकाकरण शुरू, उत्साह से लगवाया टीका

145 कोविड सेंटरों पर किशोरों का टीकाकरण शुरू, उत्साह से लगवाया टीका

कोविड-19

जोधपुर, शहर में सोमवार से 145 कोविड सेंटरों पर 15 से 18 वर्ष के किशोरों का टीकाकरण शुरु हो गया है। ऐसे में टीकाकरण को लेकर बच्चों में खासा उत्साह है। किसी का कहना है कि अब वह टीका लगवाने के बाद बिना डरे स्कूल जा सकेंगे। तो कोई बोला अब प्रतियोगिता करने के लिए शहर से बाहर जाने में डर नहीं लगेगा। कोविड के संक्रमण से बचा जा सकेगा। स्कूली बच्चों में खासा उत्साह टीका लगवाने को लेकर रहा है। कोई स्कूल से सीधा वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचा तो किसी ने वैक्सीन लगाने के लिए स्कूल से छुट्टी ली। परिजनों का कहना है कि यह बहुत अच्छा हुआ कि 15 से 18 वर्ष के बच्चों को वैक्सीन लगना शुरु हो गई है। अब परिजनों को भी चिंता कम हुई है। कई परिजन संतुष्ट हुए कि अब वे बच्चों को स्कूल भेज सकेगे अन्यथा वे अब तक ऑनलाइन ही पढा रहे थे। कई परिजनों ने जल्द से जल्द 15 वर्ष से कम आयु के बच्चों में भी वैक्सीन की शुरुआत की मांग की है।

145 कोविड सेंटरों पर किशोरों को टीकाकरण शुरू, उत्साह से लगवाया टीका

लाखों बच्चों को लगना है टीका

सोमवार से 15 से 18 वर्ष किशोरों को कोरोना के टीके लगना शुरु हो चुके है, जिले में लाखों बच्चों का लक्ष्य है। पहले दिन जिले में 145 सेंटर पर वैक्सीनेशन शुरु हुआ। इस टीकेकरण की शुरुआत राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय किसान कन्या नागौरी बेरा से हुई। यहां इस मौके पर राज्य बालकल्याण समिति अध्यक्ष संगीता बेनीवाल, नगर निगम उत्तर महापौर कुंती देवड़ा, शहर विधायक मनीषा पंवार, वरिष्ठ कांग्रेस नेता राजेन्द्र सोलंकी, जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह, समाजसेवी जसवंत कच्छावा एवं अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा किया गया। इस अवसर पर संभागीय संयुक्त निदेशक स्कूल शिक्षा प्रेमचंद साँखला, सीएमएचओ डॉ. बलवंत मंडा,आरसीएचओ डॉ. कौशल दवे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। टीका लगवाने के बाद कई बच्चों ने अपने विचार भी साझा किए। कईयों ने इसे बेहतर बताया और कईयों ने बाहर आने जाने के लिए सुरक्षित बताया।

145 कोविड सेंटरों पर किशोरों को टीकाकरण शुरू, उत्साह से लगवाया टीका

स्कूल छुट्टियों के बाद कलेक्टर की एडवाइजरी

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच रविवार को कई कड़े कदम उठाए गए। एक ओर तो आठवीं तक के स्कूलों की छुट्टियां कर दी गई हैं। वहीं सरकार एवं कलेक्टर की ओर से भी एडवायजरी एवं गाइडलाइन जारी कर बिना मास्क एवं बिना वैक्सीन अहम स्थानों पर एंट्री नहीं देना तय किया है। पर्यटन स्थल और मंदिरों में भी अब बिना मास्क व सेनेटाइजर के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है।

145 कोविड सेंटरों पर किशोरों को टीकाकरण शुरू, उत्साह से लगवाया टीका

मंदिर और किले मेें बिना मास्क पर नो एंट्री

शहर के मेहरानगढ़ फोर्ट में साढ़े आठ हजार व तीन दिन में 20 हजार पर्यटक आए। मेहरानगढ़ म्यूजियम ट्रस्ट के अनुसार गाइड लाइन की पूरी पालना के साथ मास्क व सेनेटाइजर के बिना किसी को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। इधर, रातानाडा गणेश मंदिर में भी पिछले तीन दिनों में दस हजार से अधिक पर्यटकों ने दर्शन किए। मंदिर में आने-जाने के अलग रास्ते हैं। मंदिर में मास्क व सेनेटाइजर के बिना प्रवेश पर पाबंदी है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews