The effort of the district administration brought color

20 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर की पहली खेप पहुंची जोधपुर

जोधपुर, कोरोना संक्रमण के तेजी से प्रसार के बीच रोगियों को  ऑक्सीजन की सुचारू आपूर्ति के लिए जोधपुर जिला प्रशासन के प्रयासों से 20 ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर की पहली खेप जोधपुर पहुंच गई। ऐसी करीब 76 मशीनों की डिमान्ड जिला प्रशासन ने भेजी थी। कोटा से प्राप्त इन मशीनों का सीएमएचओ कार्यालय में शहर विधायक मनीशा पंवार ने उद्घाटन किया।
शहर विधायक मनीशा पंवार ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा भी कोविड संक्रमितों के उपचार व संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य किया जा रहा है।

The effort of the district administration brought color

उन्होंने कहा कि मुझे बेहद खुशी है कि ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर की पहली खेप जोधपुर पहुंच गई है। ऑक्सीजन प्लान्ट भी शीघ्र ही जोधपुर में स्थापित किया जा रहा है। कोविड के विकट समय में राज्य सरकार व जिला प्रशासन का सहयोग करने के लिए मैं समस्त भामाशाहों को धन्यवाद देना चाहुंगी व आमजन से अपील करूंगी कि वे राज्य सरकार व जिला प्रशासन द्वारा कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी कोविड गाइडलाईन व एसओपी, एडवाइजरी की अक्षरश: पालना करे।
सीएमएचओ कार्यालय के जोनल बायोमेडिकल इन्जीनियर मनीश शर्मा ने इन मशीनों का लाईव डेमो देकर इनकी कार्यप्रणाली के बारे में समझाया और इनकी उपयोगिता के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने बताया कि संक्रमित मरीजों को तत्काल आॅक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने में यह मशीने काफी कारगर हैं। ये मशीने हवा से        ऑक्सीजन बनाती है।

ये भी पढ़े :- जिला कलेक्टर ने विभिन्न अस्पतालों का किया दौरा,देखा आक्सीजन प्लांट का कार्य

सीएमएचओ डाॅ बलवन्त मंडा ने बताया कि 5 लीटर केपेसिटी व 14 किलो के 20 आॅक्सीजन कन्सन्ट्रेटर मशीन जोधपुर पहुंची इसी के साथ 10 लीटर केपेसिटी वाली 75 आॅक्सीजन कन्सेन्ट्रेटर मशीनो की डिमांड भी भेजी गयी है जो कि शीघ्र उपलब्ध हो जाएगी इसी के साथ दानदाताओं के द्वारा भी जिले को विभिन्न आॅक्सीजन कन्सन्ट्रेटर मशीने उपलब्ध करवाई गई है। सभी दानदाताओं से आग्रह है कि इस कार्य में जिला प्रशासन का अधिक से अधिक सहयोग करें। उन्होंने बताया कि जोधपुर की आवश्यकता अनुरूप हम ऐसी और मशीने प्राप्त करने का प्रयास कर रहे हैं। भेजी गयी डिमांड में से शेष मशीने भी जल्द आने की संभावना है। इनसे आॅक्सीजन की उपलब्धता में काफी सहायता मिलेगी।