om-shivpuri-natya-samaroh-from-october-16

ओम शिवपुरी नाट्य समारोह 16 अक्टूबर से

ओम शिवपुरी नाट्य समारोह 16 अक्टूबर से

  • प्रदेश में अक्टूबर माह में आयोजित होंगे विभिन्न कार्यक्रम
  • इस वर्ष प्रदेश के वरिष्ठ एवं मूर्धन्य कलाकरों को अकादमी अवार्ड,युवा पुरस्कार एवं बाल पुरस्कार दिये जायेगें

जोधपुर,राजस्थान संगीत नाटक अकादमी जोधपुर द्वारा राष्ट्रीय स्तर की पांच दिवसीय ओम शिवपुरी स्मृति नाट्य समारोह का शुभारम्भ 16 अक्टूबर से डॉ एसएन मेडिकल कॉजेल ऑडिटोरियम जोधपुर में सायं 7 बजे से होगा। अकादमी अध्यक्ष बिनाका जेश मालू ने शुक्रवार को अकादमी कार्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि समारोह के शुभारम्भ पर 16 अक्टूबर को ललित कला संगम,जयपुर के बेनर तले राम सहाय पारिक द्वारा निर्देशित नाटक नट सम्राट के मंचन से होगा,17 अक्टूबर को समागम रंगमण्डल, जबलपुर का स्वाति दुबे द्वारा निर्देशित नाटक अगरबत्ती,18 अक्टूबर को रंग मस्ताने संस्था,जयपुर का अभिषेक मुदगल निर्देशित नाटक रश्मिरथी,19 अक्टूबर को रंग स्पर्श, दिल्ली का अजीत चौधरी द्वारा निर्देशित नाटक पति गये री कठियावाड़ तथा समारोह का समापन 20 अक्टूबर को अनुराधा आर्ट,जोधपुर के नाटक मैं तुम्हे फिर मिलुंगी के मंचन से होगा जिसका निर्देशन डॉ एसपी रंगा ने किया है।

इसके अतिरिक्त राजस्थान संगीत नाटक अकादमी द्वारा 2 अक्टूबर से लोक वाद्य निर्माण कार्यशाला एवं लोक नाट्य आयोजन अकादमी कार्यालय में किया जा रहा है। जिसमें पारम्परिक लोक कला लोक वाद्य प्रशिक्षक के रूप मे इब्राहिम लंगा को आमंत्रित किया गया है, जो लोक वाद्य सांरगी,कमायचा,सुरिन्दा एवं रबाब आदि वाद्य बनाने का प्रशिक्षण दे रहे
हैं। इस कार्याशाला का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में लुप्त हो रहे लोक वाद्यों का संरक्षण करना है।

जोधपुर एवं प्रदेश के अन्य स्थानों पर नाटक एवं संगीत के कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। अकादमी अध्यक्ष बिनाका जेश मालू ने बताया कि लोक नाट्य श्रृंखला के अन्तर्गत 7 से 9 अक्टूबर तक खाटू श्यामजी में तीन दिवसीय लोक नाट्य समारोह का आयोजन किया जा चुका है जिसमें राम रहिम लोक कला मण्डल, मौकलपुर, बंशीलाल खिलाड़ी,चुई व मारवाड़ लोक कला मण्डल,नागौर के दलों द्वारा लोक नाट्यों की प्रस्तुति दी गई और मारवाड़ समारोह जोधपुर व ओसिया में 8 व 9 अक्टूबर को अकादमी द्वारा लोक कलाकारों की प्रस्तुति दी गई। बीकानेर में अनुराग कला केन्द्र,बीकानेर एवं राजस्थान संगीत नाटक अकादमी,जोधपुर के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित “बीकानेर थियेटर फेस्टिवल” 2022 में 14 अक्टूबर को नारायण लाल शर्मा, चितौड़गढ़ का “तुर्रा कलंगी’ एवं 17 अक्टूबर को दिलिप भट्ट, जयपुर के निर्देशन में “तमाशा” शैली का मंचन होगा।

अकादमी द्वारा माह अक्टूबर में बीकानेर मासिक नाट्य प्रदर्शन एवं उदयपुर मासिक संगीत संध्या का आयोजन किया जाएगा। अकादमी अध्यक्ष मालू ने बताया कि गत 10 वर्षो से अकादमी अवार्ड नहीं दिये गये इस वर्ष प्रदेश के वरिष्ठ एवं मूर्धन्य कलाकरों को अकादमी अवार्ड, युवा पुरस्कार एवं बाल पुरस्कार दिये जायेगें। इस हेतु अकादमी द्वारा प्रस्ताव आमंत्रित किये गये हैं और प्रस्ताव प्राप्त करने की अन्तिम तिथि 30 अक्टूबर 2022 रखी गई है। प्रस्ताव प्राप्त होने पर इस पर चयन समिति द्वारा निर्णय लेकर कर शीघ्र ही अवार्ड की घोषणा की जायेगी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts