डॉ आशा माथुर स्मृति दो दिवसीय संगोष्ठी शुरू

डॉ आशा माथुर स्मृति दो दिवसीय संगोष्ठी शुरू

रक्त कैंसर के दुर्लभ प्रकार वॉल्डेंस्ट्रोम मैक्रोग्लोब्यूलिनेमिना विषय पर व्याख्यान

जोधपुर,डॉ आशा माथुर स्मृति दो दिवसीय संगोष्ठी शुरू।रक्त कैंसर के दुर्लभ प्रकार वॉल्डेंस्ट्रोम मैक्रोग्लो ब्यूलिनेमिना विषय पर दो दिवसीय संगोष्ठी के प्रथम दिन केयरगिवर्स आशा सोसाइटी,इण्डियन मयलोमा ऐकडेमिक ग्रुप,जोधपुर सोसायटी ऑफ़ पैथोलाजिस्ट्स एवं माइर्को बायोलॉजिस्ट्स एवं डॉ एसएन मेडिकल कॉलेज के संयुक्त तत्वावधान में प्रोफ़ेसर डॉ आशा माथुर स्मृति व्याख्यान माला का आयोजन किया गया। प्रथम व्याख्यान में आर्म्ड फ़ोर्सेज़ मेडिकल कॉलेज पुणे के प्रोफेसर कर्नल वाई उदय ने व्याख्यान दिया।

यह भी पढ़ें – अज्ञात वाहन ने ली युवक की जान

प्रोफ़ेसर डॉ आशा माथुर की स्मृति में आयोजित इस प्रथम व्याख्यान में डॉ उदय ने रक्त केंसर के इस दुर्लभ प्रकार के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा करते हुए बताया कि यदि समय रहते इस बीमारी के बारे में पता चल जाए तो यह समस्या का निदान संभव है और मरीज़ पूर्ण रूप से स्वस्थ हो सकता है।इस बीमारी के इलाज के लिए सभी सरकारी योजना की सुविधाएं उपलब्ध हैं। इसके इलाज के विभिन्न प्रकार की दवाओं के बारे में भी चर्चा की। इस व्याख्यान माला के प्रथम वक्ता डॉ वाई उदय को प्रशस्ति पत्र व डॉ आशा माथुर ओरेशन अवार्ड के रूप में केयरगिवर्स आशा सोसाइटी के अध्यक्ष डॉ अरविंद माथुर तथा सदस्यों ने स्वर्ण पदक प्रदान कर सम्मानित किया।

सोसाइटी की ओर से इण्डियन मयलोमा ऐकडेमिक ग्रुप को एक लाख पचास हज़ार का चेक भी भेंट किया गया। इससे पूर्व कार्यक्रम के प्रारंभ में यूसीएल कैंसर इंस्टीट्यूट लन्दन द्वारा ऑनलाइन व्याख्यान में इस बीमारी का प्रारंभिक परिचय दिया गया। मुख्य कार्यक्रम का शुभारंभ अथितियों ने माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्वलन तथा स्वर्गीय डॉ आशा माथुर के चित्र पर पुष्पांजलि कर किया। इस कार्यक्रम में मारवाड़ मेडिकल कॉलेज के कुलपति डॉ एम के आसेरी,एसएन मेडिकल कॉलेज की प्राचार्य डॉ रंजना देसाई,डॉ पूनम एल्हांस,डॉ एमके गर्ग,डॉ एनएम मेहता,डॉ प्रियांशु माथुर एवं डॉ आर सी पुरोहित,अध्यक्ष जोधपुर सोसायटी ऑफ़ पैथोलाजिस्ट्स एवं माइर्को बायोलॉजिस्ट्स उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें – दूसरे दिन भी कोई नामांकन नही भरा गया

कार्यक्रम का संचालन डॉ रिंपलजीत कौर ने किया एवं धन्यवाद ज्ञापित डॉ अविशा माथुर ने किया एवं आशा सोसायटी के अध्यक्ष डॉ अरविंद माथुर ने बताया कि इस दो दिवसीय संगोष्ठी में लगभग 150 प्रतिभागियों ने भाग लिया। स्मृति व्याख्यान कार्यक्रम के पेनल में पीजीआई चंडीगढ़ के दर पंकज मल्होत्रा,केईएम पुणे के डॉ आर मनचंदा तथा बेंगलुरु के डॉ हरिमेनन ने सम्मिलित होकर मान बढ़ाया।

जलगृह का लोकार्पण
स्वर्गीय डॉ आशा माथुर की प्रथम पुण्यतिथि पर उनकी स्मृति में उम्मेद अस्पताल में केयरगिवर्स आशा सोसायटी द्वारा डॉ आशा जलगृह का लोकार्पण दौलत कंवर पत्नी स्वर्गीय डॉ बीके माथुर ने किया। सोसायटी के अध्यक्ष डॉ अरविंद माथुर ने इस अवसर पर बताया कि समाज सेवा के इस प्रकार के कार्य से हम डॉ आशा माथुर को सच्ची श्रद्धांजलि दे रहे हैं।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts