नाबालिग का वीडियो बनाने को लेकर हाईकोर्ट में सीबीआई जांच की मांग

नाबालिग का वीडियो बनाने को लेकर हाईकोर्ट में सीबीआई जांच की मांग

याचिका लगाई

जोधपुर, शहर के उम्मेद क्लब में नाबालिग का आपत्तिजनक वीडियो बनाने के मामले में पुलिस की जांच से असंतुष्ट होकर पीड़ित पक्ष ने हाईकोर्ट में सीबीआई से जांच करवाने की मांग को लेकर याचिका दायर की। इस याचिका पर बुधवार को सुनवाई हुई। इसमें हाईकोर्ट ने सीबीआई को नोटिस जारी किया। मामले में इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर को केस डायरी व तथ्यात्मक रिपोर्ट को तलब किया है।

इस मामले में हाईकोर्ट में जस्टिस मनोज कुमार गर्ग की अदालत में सुनवाई हुई। पीडि़ता की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता रवि भंसाली, अधिवक्ता विपुल सिंघवी एवं शुभम मोदी ने बहस करते हुए जांच अधिकारी द्वारा आरोपियों को लाभ पहुंचाने और पीडि़ता के साथ अन्याय करने की मंशा की बहस की। इस प्रकरण की जांच सीबीआई से करवाने की अपील की गई। इसके लिए 5 मई 22 को हाईकोर्ट में अपील की थी। इस पर बुधवार को सुनवाई के बाद जस्टिस मनोज कुमार गर्ग ने केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) व समस्त पक्षकारों को नोटिस जारी कर, केस डायरी व तथ्यात्मक रिपोर्ट को अनुसंधान अधिकारी से तलब किया।

गौरतलब है कि 24 अप्रैल को उम्मेद क्लब में 17 वर्षीय नाबालिग युवती का स्विमिंग करने के बाद वॉशरुम में आरोपी आकाश चौपड़ा ने अश्लील वीडियो बना लिए थे। इसके बाद पुलिस थाना उदय मंदिर में मुख्य आरोपी सहित उम्मेद क्लब के अध्यक्ष हंसराज बाहेती, दीपक गहलोत, दीपक भाटी, अर्पित मोदी एवं मुख्य आरोपी के ससुर कमलेश तातेड़ के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया था। पुलिस ने भी इस माममले में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की थी। इस पर किशोरी की ओर से हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews