ठेका चालक ने चूहे मारने की दवाई पीकर किया सुसाइड का प्रयास

-अस्पताल में भर्ती

-पर्चा बयान पर केस दर्ज

जोधपुर,शहर के मंडोर स्थित निर्माण कॉलोनी में रहने वाले एक व्यक्ति ने चूहे मारने की दवा पीकर आत्महत्या का प्रयास किया। उसे उपचार के लिए एमजीएच के मेडिकल वार्ड में भर्ती करवाया गया है। मंडोर थाने के एसआई ने उसके पर्चा बयान पर आत्महत्या प्रयास में केस दर्ज किया है। पीडि़त दुर्घटना के एक केस में पेशी पर नहीं जाने पर आहत लग रहा है। फिलहाल पुलिस इस बारे में तफ्तीश कर रही है।

मंडोर पुलिस ने बताया कि निर्माण कॉलोनी मंडोर निवासी टीपू चौहान पुत्र ओमसिंह चौहान ने अपने घर में चूहे मारने की दवाई पीकर आत्महत्या का प्रयास किया। उसे एमजीएच में भर्ती करवाया गया है। रिपोर्ट के अनुसार टीपू सुल्तान पर एक पिकअप से दुर्घटना किए जाने का आरोप लगा है। जिस पर दो साल पहले सुनील विश्रोई नाम के शख्स ने जमानत दी थी। हाल में दो दिन पहले वह मंडोर मेें था तब एक व्यक्ति आया और खुद को मंंडोर पुलिस का बताते हुए कोर्ट के कागज पर चौकी पर आने को कहा। वह मंडोर चौकी पर गया तो वहां कोई नहीं मिला। इस पर टीपू सुल्तान अपने घर लौट आया और शराब पीने के बाद आहत होकर चूहे मारने की दवा पी ली। यह दवा वह घंटाघर से लेकर आया था। उसकी तबीयत बिगडऩे पर उसके भाई कुंदन ने उसे अस्पताल पहुुंचाया। उसके द्वारा आत्महत्या का प्रयास किए जाने पर मंडोर थाने के एसआई जगदीश सिंह की तरफ से पर्चा बयान पर केस दर्ज किया गया है। आरंभिक जांच में सामने आया कि वह कोर्ट पेशी पर नहीं जाने से आहत लग रहा है।