उद्योगों से जुड़े विषयों पर होंगे सेमीनार

उद्योगों से जुड़े विषयों पर होंगे सेमीनार

  • पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव-2024
  • प्रतिदिन अलग अलग विषयों पर विषय विशेषज्ञ देंगे व्याख्यान
  • अमृतकाल की गौरव यात्रा की थीम पर होंगे सभी सेमीनार

जोधपुर,उद्योगों से जुड़े विषयों पर होंगे सेमीनार।शहर के रामलीला मैदान रावण चबूतरा मैदान में आयोजित होने वाले पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव 2024 में उद्योगों से जुड़ी विभिन्न समस्याओं के समाधान करने और छोटे-छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रतिदिन विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों पर सेमिनार का आयोजन किया जाएगा,जिसमें विषय विशेषज्ञ अपने विचार व्यक्त करेंगे। जिला प्रशासन,जिला उद्योग केंद्र,उद्योग प्रोत्साहन संस्थान एवं लघु उद्योग भारती के संयुक्त तत्वाधान में होने वाले उत्सव में विभिन्न विषयों पर सेमिनार,विषय विषाग्यों के व्याखान, जिससे उद्योग से जुड़े विषयों पर मिलेगी जानकारी।

इसे भी पढ़िए- तीन मकानों में चोरों ने लाखों के जेवर नगदी चुराई

मेला आयोजन एजेंसी लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मेला संयोजक घनश्याम ओझा ने बताया कि मेले में आने वाले हर वर्ग के लिए अलग-अलग गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जहां मेले में आने वाले महिलाओं और बच्चों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएं होंगी और शाम को संस्कृतिक कार्यक्रम होंगे,वहीं यहां आने वाले छोटे-छोटे आर्टिजन एवं उद्योग से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए सेमिनार कार्यक्रम आयोजित किया जाएंगे। आजादी के अमृतकाल की गौरव यात्रा के तहत यह सेमीनार आयोजित होंगे। लघु उद्योग भारती के प्रदेश अध्यक्ष और मेल समन्वयक महावीर चोपड़ा ने बताया कि प्रतिदिन दोपहर 11 बजे से 1:00 बजे तक यह सेमिनार आयोजित किए जाएंगे।
उन्होंने बताया कि इस बार हमारा प्रयास है कि जो उद्योग संकट से झूझ रहे हैं उन उद्योगों को पुनर्जीवित करने व उद्योगों के संचालन में दिन प्रतिदिन आने वाली समस्याओं के निराकरण को लेकर विषयों का चयन किया गया है।सेमीनार में संबोधन के लिए सर्व श्रेष्ठ वक्ताओं को आमंत्रित किया गया है ताकि इन सेमिनार का उद्योगों को लाभ मिल सके

इसे भी पढ़ें-भाजपा जनप्रतिनिधि ने मन्दिरों में की साफ सफाई

लघु उद्योग भारती बोरानाडा इकाई के सचिव थानाराम चौधरी ने बताया कि 27 जनवरी को उपमुख्यमंत्री दिया कुमारी का मेले में शिरकत करने का कार्यक्रम प्रस्तावित है। दिया कुमारी के मुख्य आतिथ्य में उद्योगों से संवाद विषय पर महत्वपूर्ण सेमिनार होगा, जिसमें उद्यमी विभिन्न समस्याओं के संबंध में अपनी बात रख सकेंगे। विभाग के अधिकारी भी इस सेमिनार में मौजूद रहेंगे।

यह भी पढ़ें- नौ स्थाई वारंटों का निस्तारण,संबंधित न्यायालयों में पेश

केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी किसान सम्मेलन को करेंगे संबोधित:-
कार्यक्रम के कोर्डिनेटर मनीष महेश्वरी ने बताया कि किसान हमारे अर्थ व्यवस्था की रीड की हड्डी है और किसानो की आय को बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार ने विभिन्न योजनाओं का संचालन किया है।किसानों को आर्थिक रूप से सक्षम बनाने और जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए इस मेले में किसान सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 30 जनवरी को आयोजित होने वाले इस किसान सम्मेलन को केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करेंगे।किसान सम्मेलन में फूड और एग्रो प्रोसेसिंग इंडस्ट्री जैविक खेती विषय पर किसानों को महत्वपूर्ण जानकारी दी जाएगी। इस कार्यक्रम में जैविक खेती विशेषज्ञ रतनलाल डागा अपने अनुभव को सांझा करेंगे।

सहकारिता को बढ़ावा देने के होंगे प्रयास
कन्वीनर मनीष माहेश्वरी ने बताया कि सहकारिता हमारी अर्थव्यवस्था की सबसे अहम कड़ी है और सहकारिता के माध्यम से ही आम लोगों के जीवन स्तर को ऊंचा उठाया जा सकता है। इसको ध्यान में रखते हुए 2 जनवरी को “सहकारिता से समृद्धि” विषय पर सेमीनार होगा जिसमें सहकरिता राज्य मंत्री गौतम कुमार दक के मुख्य आतिथ्य में सेमिनार का आयोजन होगा।

इन विषयों पर भी होंगे सेमीनार
लघु उद्योग भारती बोरानाडा इकाई के अध्यक्ष राजेंद्र सालेचा ने बताया कि 25 जनवरी को प्रत्यक्ष कर और जीएसटी विषय पर सेमिनार का आयोजन होगा जिसमें जीएसटी विभाग केंद्रीय जीएसटी विभाग के अधिकारी रवि कुमार सुरपुर,सीए विमल जैन अपना उद्बोधन देंगे तथा 26 जनवरी को “हार्नेसिंग द पोटेंशियल ऑफ बिजनेस” विषय पर सेमिनार होगा जिसमें अनिल मेनन व समिश दलाल अपना वक्तव्य देंगे। 28 जनवरी को “फैमिली बिजनेस” विषय पर हितेश शुक्ला की ओर से उद्बोधन दिया जाएगा। 29 जनवरी को “कैपिटल मार्केट म्युचुअल फंड और ऑपच्यरुनिटी आफ एमएसएमई आईपीओ”विषय पर काफी महत्वपूर्ण सेमिनार होगा जिसमें नेशनल स्टॉक एक्सचेंज एमडी आशीष चौहान, मोतीलाल ओसवाल और राकेश मेहता का उद्बोधन होगा। 30 जनवरी को “इनस्टील पैट्रोटिज्म” विषय पर सेमिनार होगा जिसमे गुणवंत कोठारी उद्यमियों का ज्ञानवर्धन करेंगे। 31 जनवरी को पॉल्यूशन विषय पर काफी महत्वपूर्ण सेमिनार होगा क्योंकि वर्तमान में अधिकांश औद्योगिक इकाइयां इस समस्या से ग्रसित हैं। इस विषय पर अध्यक्ष,केंद्रीय पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड और अध्यक्ष, राजस्थान राज्य पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड शिरकत करेंगे और वे इन समस्याओं के स्थाई समाधान को लेकर उद्यमियों से वार्ता करेंगे।1 फरवरी को “एडवांस टेक्नोलॉजी यूज ऑफ एआई एंड रोबोटिक इन इंडस्ट्रीज कंट्रीब्यूशन” विषय पर सेमिनार होगा, जिसमें आई आईटी जोधपुर, पुलकित गौड़,मनोज गट्टानी,राघव शर्मा,निखिल व्यास अपना उद्बोधन देंगे। अंतिम दिन 3 फरवरी को “डायरेक्ट टैक्स” विषय पर महत्वपूर्ण सेमिनार होगा जिसमें संजय झंवर उद्बोधन देंगे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन यहां से इंस्टॉल कर सकते हैं https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts