दो मादा चिंकारा का शिकार, दो नामजद आरोपी गिरफ्तार

दो मादा चिंकारा का शिकार, दो नामजद आरोपी गिरफ्तार

  • बंदूक, कारतूस, छर्रे, बारुद,एक मोटरसाइकिल सहित दो मृत मादा चिंकारा बरामद
  • वन्यजीव प्रेमियों के सहयोग से वन विभाग व पुलिस ने पकड़ा आरोपियों को

जोधपुर,ओसियां थाना क्षेत्र के तापू- गिंगाला रोड के पास राम्मर नाडी की ओरण से सटे रेतीले धोरों में देर रात्रि को चार नामजद आरोपियों ने सामूहिक रूप से दो मादा चिंकारा हिरणों का शिकार कर लिया। प्रत्यक्ष दर्शी श्रवणराम बिश्नोई, किशनाराम बिश्नोई व घेवर राम बिश्नोई ने बताया कि वन्यजीव शिकार के आरोपी रेतीले धोरों में देर रात्रि टार्च की रोशनी नजर आई तभी एक बंदूक का फायर भी हुआ। शिकार की आंशका के चलते बंदूक फायर की दिशा में गये तो देखा दो लोग एक चिंकारा की गर्दन मरोड़ कर मोटरसाइकिल के बैग में डालकर भागने लगे तभी वन्यजीव प्रेमियों ने अपनी बोलोरो गाड़ी से पीछा कर एक आरोपी लादूराम पुत्र गोंमदराम मेघवाल निवासी तापू को मोटरसाइकिल के साथ बैग में मृत चिंकारा के साथ प्लास्टिक कैरी बैग में बारुद, कारतूस, छर्रे सहित पकड़ा।

दो मादा चिंकारा का शिकार, दो नामजद आरोपी गिरफ्तार

तत्पश्चात मौके से वन विभाग व पुलिस के साथ ही बिश्नोई टाईगर्स वन्य एवं पर्यावरण संस्थान अध्यक्ष रामपाल भवाद को सूचित किया। सूर्योदय के बाद पैरों के निशान के आधार पर पुलिस उपाधीक्षक नूर मोहम्मद के नेतृत्व में तलाशी अभियान चलाकर एक नामजद आरोपी लालचंद भील पुत्र भगवाना राम को पकड़ लिया। उसकी निशान देही पर एक बंदूक व एक मृत मादा चिंकारा को बरामद कर लिया गया। पुलिस व वन विभाग द्वारा आरोपी लालचंद भील ने पूछताछ में बताया कि किसी बड़ी पार्टी के आयोजन के लिए शिकार किया गया।

कार्यवाही के दौरान ओसियां पुलिस उपाधीक्षक नूर मोहम्मद, क्षेत्रीय वन अधिकारी हुक्माराम जाखड़, विश्नोई टाईगर फोर्स प्रदेश अध्यक्ष रामपाल भवाद, सहायक निरीक्षक सहीराम बिश्नोई, पूर्व शिक्षा अधिकारी गिरधारी राम खिलेरी,पंचायत समिति सदस्य ओमप्रकाश तापू,जगदीश बिश्नोई, जगराम बिश्नोई,अर्जुन राम, ओम प्रकाश सारण, खंगार राम सारण, श्रवण सारण तापू, घेवरराम, बीटीएफ वरिष्ठ सदस्य रामसुखराम बोला, किशनाराम,आरटीआई कार्यकर्ता महीपाल सारण आदि बड़ी संख्या में वन्यजीव प्रेमियों की मौजूद थे।

मृत दोनों चिंकारा का आज ही पशु चिकित्सालय ओसियां में तीन सदस्य बोर्ड द्वारा डॉ. बाबूलाल चौधरी के नेतृत्व में डॉक्टर रामाकिशन बिश्नोई व डॉक्टर महेंद्र सिंह गहलोत ने पोस्टमार्टम किया। इधर एक साथ दो चिंकारा शिकार की सूचना से मौके पर पहुंचे बिश्नोई टाईगर्स वन्य एवं पर्यावरण संस्थान बीटीएफ अध्यक्ष रामपाल भवाद ने मांग की है कि तापू शिकार प्रकरण में नामजद आरोपियों द्वारा खुलेआम चिंकारा मीट पार्टी में सम्मिलित फरार सभी नामजद आरोपियों के तुरंत गिरफ्तार किया जाए तथा मारवाड़ में वन्यजीव शिकार में प्रयुक्त अवैध हथियारों की बरामदगी का अभियान चलाया जाना जरूरी है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews