46 डिग्री तापमान में भावी कांस्टेबल दे रहे अग्निपरीक्षा

46 डिग्री तापमान में भावी कांस्टेबल दे रहे अग्निपरीक्षा

पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा

जोधपुर, शहर में आज से तीन दिन के लिए पुलिस कांस्टेबल की भर्ती परीक्षा का आयोजन शुरू हो गया। पहली पारी शांतिपूर्वक संपन्न हो गई। दोपहर तक पारा 46 डिग्री बना हुआ था। भावी कांस्टेबल बनने के लिए अभ्यर्थियों के लिए परीक्षा अग्रि परीक्षा से कम नहीं है। बढ़ते तापमान ने पसीने छुड़ा दिए हैं।

शहर में शुक्रवार को 23 परीक्षा केन्द्र पर कांस्टेबल भर्ती परीक्षा की पहली पारी शांतिपूर्वक संपन्न हो गई। दो पारी में होने वाली इस परीक्षा में करीब 11 हजार परीक्षार्थी को शामिल होना था, लेकिन 4,221 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा केन्द्रों पर जैमर की भी व्यवस्था विशेष रूप से की गई। लगभग 1 हजार पुलिस जवान और अधिकारी परीक्षा कराने की व्यवस्थाओं में लगे हुए हैं।

आधा घंटे पहले मिला प्रवेश

सुबह परीक्षा शुरू होने से आधा घंटा पहले सभी परीक्षार्थियों को परीक्षा केन्द्र में प्रवेश दिया गया। इसके बाद पहुंचे परीक्षार्थियों को बाहर ही रोक दिया गया। कई स्थान पर छात्राएं सुरक्षा में तैनात पुलिस कर्मियों से आग्रह करती नजर आई। कुछेक के आंसू बह निकले, लेकिन नियमों से बंधे पुलिस अधिकारियों ने उन्हें परीक्षा केन्द्र में प्रवेश नहीं दिया।

पुलिस आयुक्त कर रहे मॉनिटरिंग, जैमर लगाए गए

इसमें पुलिस कमिश्नर नवज्योति गोगोई जहां परीक्षा को लेकर मॉनिटरिंग कर रहे हैं। डिप्टी पुलिस कमिश्नर राजकुमार चौधरी के निर्देशन में व्यवस्थाओं की समीक्षा की जा रही है। परीक्षा केन्द्रों पर जैमर की भी व्यवस्था विशेष रूप से की गई है। लगभग 1 हजार पुलिस जवान और अधिकारी परीक्षा कराने की व्यवस्थाओं में लगे हुए है। परीक्षा केंद्रों पर कड़े सुरक्षा के इंतजाम किए गए हैं। अलग-अलग जिलों से परीक्षा देने के लिए यहां अभ्यर्थी पहुंचे। परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए रोडवेज के साथ-साथ निजी बसों का भी प्रबंध किया गया है। प्रादेशिक परिवहन अधिकारी रामनारायण बडग़ूजर ने बताया कि निरीक्षकों व अधिकारियों की ड्यूटी इसमें लगाई गई है। प्रादेशिक परिवहन कार्यालय में कंट्रोल रूम भी स्थापित किया गया है।

कुछ परीक्षार्थी पहुंचे देरी से

परीक्षा केन्द्रों पर प्रवेश बंद होने के साथ ही जब कुछ अभ्यर्थी लेट आए तो लेट आने वाले अभ्यर्थियों को प्रवेश नहीं दिया गया। अभ्यर्थियों ने पुलिस वालों के सामने हाथ जोड़कर विनती की। नियमों के चलते आधे घंटे पहले ही प्रवेश बंद करने का प्रावधान है। ऐसे में कई अभ्यर्थी परीक्षा नहीं दे पा रहे हैं। कई अभ्यर्थियों ने पुलिस वालों को खरी-खोटी भी सुनाई। रोते बिलखते हुए प्रवेश की अभ्यर्थी प्रार्थना करते हुए भी नजर आए।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews