president-of-nav-shiksha-samaj-sir-pratap-mahavidyalaya-was-accused-of-fraud

नव शिक्षा समाज सर प्रताप महाविद्यालय के अध्यक्ष पर लगा धोखाधड़ी का आरोप

कूटरचित दस्तावेजों से संपत्ति हड़पने का कुप्रयास

जोधपुर,महात्मा गांधी अस्पताल रोड स्थित कायस्थ जनरल सभा के अध्यक्ष ने नवशिक्षा समाज सर प्रताप महाविद्यालय के अध्यक्ष पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए पुलिस में इसकी रिपोर्ट दी है। पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज करते हुए जांच आरंभ की है। सरदारपुरा पुलिस ने बताया कि कायस्थ जनरल सभा के अध्यक्ष नरेश माथुर की तरफ से रिपोर्ट दी गई। इसमें बताया कि नव शिक्षा समाज सरप्रताप महाविद्यालय एमजीएच रोड के अध्यक्ष गिरीश माथुर ने दस्तावेजों मेें हेरफेर कर धोखाधड़ी की है।

ये भी पढ़ें – गुजरात में सत्य की जीत हुई है- शेखावत

रिपोर्ट में आरोप है कि कॉलेज एजुकेशन एवं भीमराव अंबेडकर विधि विश्वविद्यालय से संबंधित दस्तावेजों की सत्यापित प्रतियोंं का सूचना के अधिकार के तहत मांगे गए। दस्तावेज मिलने पर परिवादी नरेश माथुर को धोखाधड़ी का पता लगा। नवशिक्षा समाज कायस्थ संस्था की किराएदार है और नव शिक्षा अध्यक्ष गिरीश माथुर ने जुलाई तक का ही किराया अदा किया है। उसने फर्जी दस्तावेजों को तैयार कर खुद के हस्ताक्षर कर लैण्ड टाइटल डीड नव शिक्षा समाज जोधपुर के नाम से जारी करवा दिया।

आरोप है कि उक्त दस्तावेजों को कमिश्रर कॉलेज एजुकेशन जयपुर के समक्ष भेज दिया। जो पूर्ण रूप से फर्जी थे। फर्जी दस्तावेजों को संस्था अचल संपत्ति को हड़पने का कूटरचना की गई। अभियुक्त गिरीश माथुर द्वारा संस्था को नुकसान पहुंचाने के इरादे से फर्जीवाड़ा करते हुए कूट रचित दस्तावेजों को तैयार करवाया। सरदापुरा पुलिस ने धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर अब जांच आरंभ की है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews