jodhpur-was-sparkling-with-child-talent

बाल प्रतिभाओं से चहक महक रहा था जोधपुर

जोधपुर, राजस्थान संगीत नाटक अकादमी जोधपुर का परिसर रविवार को बाल प्रतिभाओं के गायन और नृत्य से चहक महक रहा था। अवसर था बाल दिवस पर अकादमी द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय बाल शास्त्रीय गायन और नृत्य प्रतियोगिता का। इस प्रतियोगिता में राजस्थान के विभिन्न क्षेत्रों से आये पांच से पंद्रह वर्ष उम्र के सवा सौ से अधिक बाल कलाकारों ने अपनी स्वर माधुर्यता व घुंघरुओं की झंकार के साथ अपनी कला साधना का प्रदर्शन किया।

jodhpur-was-sparkling-with-child-talent

इससे पूर्व अकादमी अध्यक्ष बिनाका जेश ने नटराज प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्होंने प्रतिभागियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री चाचा नेहरू को बच्चे बहुत प्रिय थे और वे चाहते थे कि बाल योग्यताओं को पूरे अवसर मिलने चाहिये जिससे वे राष्ट निर्माण में भागीदार बन सकें। नेहरू की भांति ही हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी बाल व युवा प्रतिभाओं को सभी प्रकार के अवसर उपलब्ध कराने हेतु प्रतिबद्धता से जुटे हुए हैं।

ये भी पढ़ें- ऑनलाइन गेमिंग के बकाया रुपए नहीं देने पर केस दर्ज

jodhpur-was-sparkling-with-child-talent

अकादमी सचिव डॉ सूरजमल राव ने बताया दो दिवसीय इस प्रतियोगिता का प्रथम योग्यता चरण आज पूरा हो गया है। इस चरण में ग्रुपवार चयनित प्रतिभागियों को कल बाल दिवस पर फाइनल राउंड में हिस्सा लेकर विजेता बनने का अवसर मिलेगा। सचिव ने बताया कि इस प्रतियोगिता के निर्णायक राष्ट्रीय स्तर के कलाविज्ञ हैं।
कार्यक्रम की व्यवस्था का जिम्मा अकादमी उपाध्यक्ष अनिता ओरडिया, सदस्य रमेश भाटी व शब्बीर हुसैन सहित अकादमी अधिकारी ने संभाला।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews