जोधपुर, मानसून सीजन के मद्देनजर नगर निगम द्वारा करवाए जा रहे बरसाती नालों की सफाई व निर्माण कार्यों का जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह ने मंगलवार को निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ निगम के कई अधिकारी भी थे। जिला कलेक्टर ने मानसून आने से पूर्व बरसाती नालों के निर्माण व सफाई कार्यों को पूरा करने के निर्देश है।

जिला कलेक्टर बरसाती नालों

जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह ने नगर निगम दक्षिण के आयुक्त अमित कुमार यादव व अन्य अधिकारियों के साथ शहर के कई बरसाती नालों का निरीक्षण किया। उन्होंने प्रताप नगर,पाल रोड आदि स्थानों पर बरसाती नालों की सफाई कार्य का जायजा लिया।

जिला कलेक्टर बरसाती नालों

नगर निगम अधिकारियों ने उन्हें बताया कि बरसाती नालों की सफाई का अधिकांश कार्य पूरा हो चुका है, शेष कार्य पूरा करने को लेकर अधिकारियों को निर्देशित कर दिया गया है। जहां कहीं भी सफाई के दौरान नाले क्षति ग्रस्त हुए है उनकी मरम्मत करने और नालों को कवर करने को लेकर भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। जिला कलेक्टर ने क्षतिग्रस्त बरसाती नालों के निर्माण कार्य में गुणवत्ता बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।

जिला कलेक्टर बरसाती नालों

राज्य के दूसरे बड़े शहर जोधपुर में बारिश के दौरान तीन वर्ष पहले नालों में गिरने से एक के बाद एक चार मौत हो गई थी। उसके बाद भी कई स्थानों पर नाले खुले पड़े हैं। हालांकि बरसाती नालों में गिर कर हुई मौतों के बाद नगर निगम ने हादसों की आशंका वाले नाले क्षेत्रों में चेतावनी बोर्ड लगा दिए थे। वर्ष 2017 में लगे बोर्ड कई स्थानों से गायब हो गए है तो कहीं चेतावनी लिखी मिट गई ऐसे में लोगों को पता भी नहीं कि यहां बरसात में खतरा है।

>>> पटवारी को पांच हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा

Click 👆