फर्जी तरीके से दौड़ पास करने वाले दो युवक गिरफ्तार

फर्जी तरीके से दौड़ पास करने वाले दो युवक गिरफ्तार

  • कांस्टेबल भर्ती परीक्षा
  • युवकों द्वारा दौड़ के समय बदली गई थी चिप

जोधपुर,फर्जी तरीके से दौड़ पास करने वाले दो युवक गिरफ्तार।पुलिस आयुक्तालय की तरफ से 28 दिसम्बर को आयेाजित पुलिस कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के शाीरिक मापतौल में फर्जी तरीके से दौड़ में चिप लगाकर परीक्षा पास करने वाले युवक और उसके सहयोगी छात्र को पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया। मामला मंडोर थाने में दर्ज करवाया गया था। बालसमंद मंडोर जोधपुर में कान्सटेबल भर्ती 2023 की शारीरिक दक्षता मापतौल परीक्षा का आयोजन किया गया था,जो अनुबन्धित फर्म टाइमिंग टक्नोलॉजी इण्डिया प्राइवेट लिमिटेड हैदराबाद द्वारा किया गया था। शारीरिक दक्षता मापतौल परीक्षा की दौड़ के समय प्रत्येक युवक के दोनों पैरों में एक-एक चिप लगाई जाती है।

यह भी पढ़ें – जेल से दी दुष्कर्म पीड़िता को फिर से गैंग रेप और बच्चे के जान की धमकी

दौड़ पूरी होने पर कम्पनी ने अपने विश्लेषण एवं कंप्यूटराइज रिपोर्ट में अभ्यार्थी गौरव की लगी दोनों पैरों की चिपों के चक्करों में अन्तर पाया तब सीसीटीवी कैमरों की रिकार्डिग खंगाली गई। कंप्यूटराइज रिपोर्ट से गौरव के एक पाव की चिप में 10 चक्कर व दूसरी चिप में 12 चक्कर पूरे होना बता रही थी। पाया गया कि बलराम मीणा ने गौरव मीणा की दौड़ पूरी करवाने की लिए उसकी चिप अपने पैर में बांध ली व चक्कर पूरे कर लिए। जिस पर मंडोर थाने में प्रकरण दर्ज हुआ था।

यह भी पढ़ें – सात हजार का डीजल भरवाकर भागे बोलेरो सवार

यह आरोपी गिरफ्तार
मंडोर थानाधिकारी विक्रम सिंह चारण ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ के बाद अब सवाई माधोपुर के गंगापुर स्थित हीरापुर निवासी बलराम पुत्र रामचरण मीना और अमाला बेहडक़ों कल्ला गंगापुर सवाई माधोपुर निवासी गौरव कुमार मीणा उर्फ गोलू पुत्र जगदीश को गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़ें – कोर्ट के आदेश के बावजूद नियुक्ति नही देने पर हाइकोर्ट ने माना गंभीर

ऐसे अपनाया चिप बदलने का तरीका
थानाधिकारी विक्रम सिंह चारण ने बताया कि प्रत्येक परीक्षार्थी द्वारा कुल 12 चक्कर लगाने होते हैं एवं प्रत्येक परीक्षार्थी के पैरों में दो चिप लगाई जाती हैं। अभ्यार्थी गौरव जो पूर्व में कान्सटेबल भर्ती परीक्षा की शारीरिक दक्षता मापतौल परीक्षा में असफल हुआ था। इसी वजह से गौरव ने शारीरिक दक्षता मापतौल परीक्षा में सफल होने के लिये इस बार अपने एक पैर की चिप दूसरे युवक बलराम को दे दी और बलराम पूरे 12 चक्कर लगाने में सफल रहा,लेकिन सीसीटीवी कैमरों व चिप की प्रत्येक चक्कर की कंप्यूटराइज रिपोर्ट से मामला पकड़ा गया।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts