जो विकास कार्य हाथ में लिए वे आगे बढ़ रहे- गहलोत

जो विकास कार्य हाथ में लिए वे आगे बढ़ रहे- गहलोत

जोधपुर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि उन्होंने जो-जो विकास कार्य हाथ में लिए थे वे आगे बढ़ रहे हैं। इन कार्यों को पूरा होते देख एक सुखद अहसास होता है। जोधपुर शहर के विकास की बीस-पच्चीस साल पहले जो कल्पना की थी वह आज साकार होती नजर आ रही है।

जोधपुर में शनिवार को तूफानी अंदाज में विकास कार्यों का जायजा लेने के बाद बातचीत में उन्होंने कहा कि विकास कार्यों की मैं जयपुर से लगातार मॉनिटरिंग कर रहा हूं। कलेक्टर सहित अन्य अधिकारियों से लगातार बातचीत हो रही है। ताकि सारे विकास कार्य समय पर पूरे हो सकें। बस स्टैंड व पावटा अस्पताल के विस्तार की कल्पना बरसों पहले की थी। अब यह साकार होने जा रही है। किसान भवन खाली नहीं होने के कारण अस्पताल का विस्तार नहीं हो पा रहा था। अब किसान भवन खाली होने से यहां तीन सौ बेड क्षमता का अस्पताल तैयार हो जाएगा। इससे गांव से आने वाले लोगों को बस स्टैंड पर उतरते ही इलाज की सुविधा मिल जाएगी। साथ ही जोधपुर में दूसरे मेडिकल कॉलेज खोले जाने पर यह अस्पताल बहुत उपयोगी साबित होगा। शहर तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में सुविधाओं का निर्माण भी तेजी से होना चाहिये।

जो विकास कार्य हाथ में लिए वे आगे बढ़ रहे- गहलोत

एलिवेटेड पर चल रही बात

जोधपुर में प्रस्तावित एलिवेटेड रोड के बारे में उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री गडकरी से इस बारे में बात हो रखी है। उन्होंने भरसक सहयोग का आश्वासन भी दे रखा है। इसकी डीपीआर तैयार होने के बाद एक बार फिर उनसे बात करेंगे। बड़ा प्रोजेक्ट है। ऐसे में समय तो लगता ही है।

कोयला संकट पर बातचीत जारी

प्रदेश का बिजली संयंत्रों के समक्ष कोयला संकट के बारे में गहलोत ने कहा कि छतीसगढ़ के मुख्यमंत्री से बात की है। केन्द्र सरकार से भी बात चल रही है। उम्मीद है कि हमारी कोशिशें रंग लाएगी और कोयला मिलना शुरू हो जाएगा।

बजट में सभी वर्ग का रखा ध्यान

गहलोत ने कहा कि हमारे बजट में सभी वर्ग का ध्यान रखा गया। यही कारण है कि इसकी चर्चा पूरे देश में है। हमने हर वर्ग का ध्यान रखा है। चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना के तहत बजट दस लाख का कर दिया है। इस योजना से किसी भी गरीब को उपचार करवाने में कोई परेशानी नहीं हो इसका ध्यान रखा गया है। हमारा प्रयास यह है कि योजनाओं का लाभ प्रत्येक व्यक्ति को मिले इसको लेकर भी लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है।

लिफ्ट नहर के तीसरे चरण की तैयारी

गहलोत ने कहा कि नहर का पानी आने से जोधपुर के लोगों को काफी आराम मिला। हालांकि अभी भी तकलीफ है। ऐसे में लिफ्ट नहर के तीसरे चरण की तैयारी है। ताकि आने वाले वर्षों में पानी की कमी नहीं हो। पाली में इस बार गंभीर पेयजल संकट है। हमारी कोशिश है कि लोगों को कम से कम तकलीफ हो।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews