राज्य सरकार तत्काल गिरदावरी

जोधपुर, राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि पश्चिमी राजस्थान के अधिकतर भाग में वर्षा की कमी के कारण फसले सूख चुकी हैं। राज्यसभा सांसद ने बताया कि विषेषतः जोधपुर संभाग में बिल्कुल ही वर्षा नहीं होने से किसानों की सारी फसले सूख चुकी हैं। यहां वर्षा की कमी के कारण प्रदेश के पशुओं के लिए पीने के पानी की कमी हो गई है। यहां तक कि अधिकतर गांवों के नाडी, पोखर, तालाब सब सूख चुके हैं। इस कारण से ग्रामीण क्षेत्र में किसान व पशुपालक भारी परेशानी से घिर गए। ग्रामीण क्षेत्रों में चल रही पेयजल योजनाएं भी नलकूपों के सूखने से प्रभावित हो रही हैं।

उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने राज्य सरकार को पूर्व में ही निर्देशित कर चुकी है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मिड टर्म सर्वे कराकर खराबे की जानकारी उपलब्ध कराएं ताकि प्रभावितों को तत्काल 25 प्रतिशत राशि राहत स्वरूप जारी की जा सके। किन्तु राज्य सरकार किसानों के प्रति संवेदनहिनता का परिचय दे रही है। अभी तक मिड टर्म गिरदावरी सर्वे का कार्य प्रारम्भ नहीं किया है। इस कारण से प्रदेश के किसानों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है एवं पलायन तक की स्थिति बन रही है।

उन्होंने बताया कि मेरे स्वयं द्वारा विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा किया गया एवं किसानों की भयावह स्थिति को देखकर दंग रह गया। कई ऐसे परिवारों से भी मिला जिनकी फसल सुख जाने से उन्हें दैनिक उपभोग की खाद्य सामग्री की व्यवस्था करना भारी पड़ रहा है। राज्यसभा सांसद ने इस संबंध में राज्य के मुख्यमंत्री को पत्र जारी कर प्रदेश में तत्काल गिरदावरी कराने की मांग की। ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों के लिए उसी ग्राम में राहत कार्य प्रारम्भ कराने, किसानो को तत्काल आर्थिक सहायता देने, पेयजल की व्यवस्था सुनिश्चित करने, पशुओं के लिए चारे व पानी की व्यवस्था करने की भी मांग की।

ये भी पढें – कुड़ी हौद में दो बालक और युवक डूबा

ददूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews