Six months ago, a miscreant who tried to kill an old man by carriage was arrested.

जोधपुर, शहर की राजीव गांधी नगर पुलिस ने छह माह से फरार एक बदमाश को आज गिरफ्तार किया है। आरोपी ने छह महिने पहले चौखा गांव के एक वृद्ध पर जानलेवा हमले का प्रयास किया था। उनकी गाड़ी को टक्कर मारने के साथ मारपीट की और गाड़ी दौड़ाकर चढ़ाने का प्रयास किया था। घटना का वांछित अपराधी आज पुलिस की हत्थे चढ़ गया। अभियुक्त से पूछताछ की जा रही है। इसका एक साथी लारेंस गैंग में भी शामिल रहा है। मगर वो आज तक नहीं मिला है।

राजीव गांधी नगर थानाधिकारी मूलसिंह भाटी ने बताया कि चौखा के नयापुरा निवासी शेरसिंह की तरफ से रिपोर्ट दी गई थी। इसके अनुसार 20 अगस्त 20 को उसके पिता प्रेमाराम को काली गेट वे कार में आए बदमाशों ने रूकवाकर हमला किया था। वे बचकर भागने लगे तो उनके पीछे कार को दौड़ाया और चढ़ाने का प्रयास किया था। इस घटना में उसके पिता को गंभीर चोटों लगी थी। थानाधिकारी भाटी ने बताया कि घटना को लेकर आज आरोपी मगरापूंजला निवासी लोकेश गहलोत पुत्र कमलकिशोर को गिरफ्तार किया गया है।

उसने अपने कुछ साथियों संग मिलकर यह हमला किया था। गौरतलब है कि घटना में राहुल कच्छवाह नाम का शख्स भी शामिल रहा है। जो मंडोर थाने का हिस्ट्रीशीटर भी है। वह अभी पकड़ में नहीं आया है। राहुल लारेंस गैंग में भी शामिल रहा है। ऐसे में लोकेश गहलोत का भी लारेंस से लिंक पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस ने फिलहाल उसके लारेंस का गुर्गा होने की बात से इंकार किया है।