Service work done on San birth anniversary
  • कोरोना गाइडलाइन के कारण नहीं हुए बड़े आयोजन
  • मंदिरों में पुजारियों ने की पूजा अर्चना

जोधपुर, सैन समाज के आराध्य देव संत शिरोमणि सैन महाराज का 721वां जन्मोत्सव शनिवार को श्रद्धापूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर कोरोना गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए बड़े आयोजन नहीं हुए। समाज के लोगों ने सिर्फ सेवा कार्य किए। सैन महाराज के मंदिरों में पुजारियों ने सीमित संख्या में ध्वजारोहण व पूजा अर्चना की।

सैन समाज के मदन सोलीवाल ने बताया कि सैन जयंती पर देशभर के प्रमुख सामाजिक संगठनों से चर्चा के बाद कोरोना को देखते हुए कोई भी सार्वजनिक आयोजन नहीं करने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया था। इसके साथ ही अखिल भारतीय सैन भक्ति पीठ के पीठाधीश्वर व सैन समाज के धर्मगुरु सैनाचार्य अचलानंद गिरि ने भी इस बार सैन जयंती सेवा कार्यों के माध्यम से मनाए जाने का आह्वान किया था। इसलिए आज सैन महाराज का 721वां जन्मोत्सव कोरोना महामारी के चलते घरों में सादगी से मनाया गया।

इस अवसर पर सैन समाज की ओर से जरूरतमंद व असहाय लोगों को खाद्य सामग्री, गोवंश के लिए चारा तथा पक्षियों के लिए परिंडे, दाना पानी की व्यवस्था की गई। कई लोगों ने अस्पतालों में विभिन्न उपकरण, मास्क, सैनेटाइजर आदि सामग्री भेंट की। सैन मंदिर में केवल पुजारियों ने कोविड-19 गाइड लाइन की पालना करते हुए ध्वजारोहण, अभिषेक व आरती की। इस दौरान वहां सीमित संख्या में समाज के गणमान्य लोग उपस्थित हुए।

ये भी पढ़े :- ऑक्सीजन कॉन्सनट्रेटर मशीन की भेंट