re-operation-of-battery-vehicle-started-for-disabled-and-elderly-railway-passengers

दिव्यांग व बुजुर्ग रेल यात्रियों के लिए बैटरी व्हीकल का पुनर्संचालन शुरू

दिव्यांग व बुजुर्ग रेल यात्रियों के लिए बैटरी व्हीकल का पुनर्संचालन शुरू

एक प्लेटफॉर्म से दूसरे प्लेटफॉर्म पर पहुंचने में होगी आसानी

जोधपुर,उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल के मुख्य रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधा को ध्यान में रखते हुए बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल का संचालन फिर से प्रारंभ कर दिया गया है। मंडल रेल प्रबंधक गीतिका पांडेय ने बताया कि बुजुर्ग, दिव्यांग और गर्भवती महिला रेल यात्रियों को रेलवे स्टेशन के एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर उनके सामान सहित लाने ले जाने के महत्ती उद्देश्य से यह बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल पिछले साल मंडल रेल उपयोगकर्ता परामर्श दात्री समिति के सदस्य गणपत सालेचा ने जोधपुर के व्यवसायी गुलाब चंद सालेचा की स्मृति में रेलवे को भेंट किया था।

तकनीकी कारणों से उस समय इसका संचालन बंद हो गया था, मगर इसके नियमित संचालन में आने वाली सभी बाधाओं को दूर कर सोमवार से इसका पुनः संचालन प्रारंभ कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल का उपयोग केवल बुजुर्ग,दिव्यांग और गर्भवती महिला रेल यात्रियों के लिए किया जाएगा तथा यह सेवा पूरी तरह से निःशुल्क रहेगी।

उन्होंने बताया कि हालांकि रेल यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे ने एस्केलेटर और लिफ्ट की सुविधा पहले से उपलब्ध करवा रखी है लेकिन ऐसे यात्रियों के लिए जो इनका उपयोग कर पाने में अक्षम हैं उनके लिए बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल जैसी मूलभूत सुविधा भी होनी आवश्यक है जिससे इन यात्रियों को आवागमन की सुविधा मिल सके। बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल मुख्य रेलवे स्टेशन के एक नंबर प्लेटफार्म पर हमेशा उपलब्ध रहेगी।

यह है फायदा

इस बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल का सबसे बड़ा फायदा है कि दिव्यांग और बुजुर्ग यात्रियों को एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर पहुंचने के लिए सीढियां नहीं चढ़नी पड़ती और यात्रियों को भारी समान एक जगह से दूसरी जगह तक उठा कर नहीं ले जाना पड़ता है। बैटरी से चलने वाली कार आसानी से बुजुर्ग और दिव्यांग यात्रियों को उनके प्लेटफार्म पर पहुंचा देती है।

मोबाइल पर 10 मिनट पहले होगी बुकिंग

बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल की बुकिंग ट्रेन के आवागमन से 10 मिनट पूर्व निर्धारित मोबाइल नंबर 96607 34343 पर कॉल करके दी जा सकेगी तथा एक फेरे में पांच सवारियों को ले जाने और लाने की व्यवस्था रहेगी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts