कलेक्टर को आदेश, जो अधिकारी फोन नहीं उठाते, तो करें चार्जशीट तैयार

कलेक्टर को आदेश, जो अधिकारी फोन नहीं उठाते, तो करें चार्जशीट तैयार

प्रभारी मंत्री गर्ग ने बैठक में सुनाई खरी खरी

जोधपुर, जिले के प्रभारी मंत्री सुभाष गर्ग ने आज जलदाय विभाग अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने खरी खरी सुनाते हुए कलेक्टर को तो आदेश तक दे डाला कि जो अधिकारी फोन नहीं उठाते उनके खिलाफ चार्जशीट तैयार की जाए। वे जोधपुर प्रवास पर आज बैठक ले रहे थे। वे खासकर नहर बंदी पर अफसरों पर बरसे। प्रभारी मंत्री ने कहा कि बुनियादी लोक सुविधाओं एवं सेवाओं से संबंधित विभागों को और अधिक जवाबदेही के साथ काम करने की जरूरत है। इसे देखते हुए अधिकारियों को चाहिए कि वे अपनी कार्यशैली को पूरी तरह से जनोन्मुखी बनाते हुए काम करें और लोगों की आशाओं एवं आकांक्षाओं पर खरे उतरें। समस्याओं के त्वरित समाधान की आदत डालें।

प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने शुक्रवार को जोधपुर कलेक्ट्रेट सभागार में जिलास्तरीय अधिकारियों के साथ जनसुनवाई के दौरान यह आह्वान किया।

कलेक्टर को आदेश, जो अधिकारी फोन नहीं उठाते, तो करें चार्जशीट तैयार

जनता की समस्याओं को सुना

प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने जिला स्तरीय अधिकारियों के समक्ष जनसुनवाई करते हुए जनता की समस्याओं को सुना तथा प्रत्येक समस्या के बारे में संबंधित विभागों के अधिकारियों से वस्तु-स्थिति की जानकारी ली और शिकायतों व समस्याओं के निस्तारण में देरी के बारे में जवाब तलब किया तथा त्वरित समाधान के लिए ठोस निर्देश प्रदान किए। उन्होंने जिले में पेयजल तथा बिजली के बारे में समीक्षा करते हुए इन विभागों के अधिकारियों से कहा कि ग्रीष्मकाल में विशेष ध्यान देते हुए हर स्तर पर गंभीरता बरतें और बिजली-पानी से संबंधित समस्याएं सामने आने पर तत्काल इनका निराकरण कर प्रभावित जनता को राहत प्रदान करें।

अधिकारियों को नोटिस देने पर जोर

प्रभारी मंत्री गर्ग ने जिला कलक्टर को बैठक में अनुपस्थित रहे अधिकारियों के खिलाफ नोटिस जारी कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। डॉ. गर्ग ने समस्याओं की सुनवाई करते हुए अधिकारियों को समयबद्ध सीमा में निस्तारण कर रिपोर्ट पेश करने के सख्त निर्देश दिए। इस दौरान आवासीय कॉलोनियों में आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने, ग्रामीणों को सड़क़ सुविधा से जोड़ऩे, जरूरतमन्दों को बिजली कनेक्शन देने, शहरी क्षेत्र में नगर निकायों के समन्वित प्रयासों से सीवरेज का बेहतर प्रबन्धन व आगामी 10 वर्ष का चरणबद्ध रोडमेप बनाकर उसके अनुरूप कार्य करने, बालेसर में पर्याप्त जलापूर्ति, विभिन्न पंचायतों में जल सुविधा के लिए पृथक से योजनाएं बनाने, जरूरत के अनुरूप गांवों और शहरों में टैंकरों से पेयजल परिवहन करने आदि के निर्देश दिए।

-मित्र की गतिविधियों पर पारदर्शिता लाएं

गर्ग ने ई मित्र केन्द्रों की गतिविधियों को पारदर्शी बनाने के निर्देश देते हुए कहा कि इनके बारे में गड़बडिय़ों की अधिक शिकायतों प्राप्त हो रही हैं। इस स्थिति में तत्काल सुधार लाया जाए। उन्होंने स्पष्ट कहा कि अब किसी भी ई मित्र के बारे में शिकायत आएगी तो कार्यवाही होगी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews