nepal-police-handed-over-stolen-goods-foreign-currency-and-gold-jewelery-to-jodhpur-police

नेपाल पुलिस ने जोधपुर पुलिस को सौंपा चोरी का माल,विदेशी करेंसी और सोने के जेवरात

पांचों अभियुक्तों की रिमाण्ड अवधि 17 तक बढ़ाई

जोधपुर,हैंडीक्राफ्ट व्यापारी के घर से चोरी करके नेपाल भागे आरोपियों के पास से पुलिस ने बचा हुआ माल भी बरामद कर लिया है। नेपाल पुलिस ने जोधपुर पुलिस को सोने का ब्रेसलेट, कंगन,घड़ी और विदेशी करेंसी जब्त कर सौंप दी है। पुलिस की गिरफ्त में पांचों अभियुक्तों की रिमाण्ड अवधि 17 नवंबर तक बढ़ा दी गई है।

एयरपोर्ट थानाधिकारी कैलाश विश्रोई ने बताया कि आरोपी अमरसिंह,खेम बहादुर को फिर से कोर्ट में पेश करने पर उसकी रिमाण्ड अवधि 17 तक बढ़ा दी गई। नौकरानी लक्ष्मी,मंजिल एवं धन बहादुर 17 तक पुलिस अभिरक्षा में हैं। नेपाल पुलिस वहां से फरार हुए मुल्जिमों की तलाश में लगी है। उनके पकड़े जाने पर इंटरपोल की मदद से इन्हें भारत लाने की प्रक्रिया आरंभ की जाएगी।

ये भी पढ़ें- खारी में लाठी भाटा जंग,बजरी ठेकेदार-ग्रामीणों में बवाल,गाडिय़ां फूंकी

आरोपियों से सूरत,कुचमान और दिल्ली में भी चोरी का माल बरामद किया जा चुका है। पुलिस का कहना है कि व्यापारी का पूरा माल बरामद हो चुका है। यह बड़ी बात है कि राजस्थान पुलिस ने नेपाल पुलिस के साथ तालमेल बैठाया और वहां से भी चोरी का माल ले आई।

नेपाल भागी मंजू और उसका बॉयफ्रेंड

नेपाल पुलिस ने गत शनिवार को आरोपी भरत,ज्योति और हरीश को गिरफ्तार किया था। मगर मौके से मुख्य आरोपी मंजू और उसका जीजा भगत हथकड़ी सहित फरार हो गए लेकिन वे चोरी का माल छोड़ गए। नेपाल पुलिस ने माल बरामद कर लिया था, जिसमें व्यापारी की 85 लाख की अंगूठी,दो रोलेक्स कंपनी की घडिय़ां,डायमंड व सोने के दो ब्रेसलेट,दो कड़े और अलग-अलग देशों के विदेशी नोट शामिल थे।

ये भी पढ़ें- लूट नकबजनी का आरोपी तड़के घुसा मकान में चोरी की नीयत से, साथी संग पकड़ा गया

जोधपुर पुलिस यह माल लेकर सोमवार की रात को आई थी। मंजू और भगत की तलाश जारी है। सनद रहे कि हैंडीक्राफ्ट व्यापारी अशोक चोपड़ा,उसकी बेटी लवीना, ड्राइवर संतोष और नारायण को खाने में ड्रग्स देकर चोरी करने वाले आठ आरोपियों को पुलिस अब तक पकड़ चुकी है। इसमें कुचामन में मदद करने वाला अमरसिंह,दिल्ली में पकड़े मंजिल,लक्ष्मी और धन बहादुर,सूरत से खेम बहादुर और नेपाल में मुख्य आरोपी मंजू की बहन ज्योति,प्रेमी भरत और उसका साथी हरीश शामिल हैं। मंजू और उसका जीजा भगत फरार हैं। दोनों की तलाश नेपाल पुलिस कर रही है, उन्हे गिरफ्तार करने के बाद वहां की पुलिस दोनों को जोधपुर पुलिस के हवाले कर देगी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews