माइंस में विस्फोट करते पत्थर लोगों के घरों और खिड़कियों पर गिरे,तीन घायल

माइंस में विस्फोट करते पत्थर लोगों के घरों और खिड़कियों पर गिरे,तीन घायल

  • वैध लाइसेंस 1999 मेें जारी रखा
  • तीन लोगों पर पुलिस ने उपेक्षापूर्ण खनन का केस दर्ज किया
  • पांच ट्रेक्टर एवं कंप्रेशर मशीन बरामद

जोधपुर,माइंस में विस्फोट करते पत्थर लोगों के घरों और खिड़कियों पर गिरे,तीन घायल।कमिश्ररेट के जिला पूूर्व में लीलपा भाखर माता का थान क्षेत्र में बुधवार को दिन में खनन कार्य करते विस्फोट से उछले पत्थर लगने से तीन लोग चोटिल हो गए। बाद में घटना की जानकारी पर पुलिस वहां पहुंची और हालात को देखा। खनन का कार्य उपेक्षापूर्ण ढंग से चल रहा था जिस पर पुलिस ने केस दर्ज करने के साथ वहां से पांच ट्रेक्टर व कंप्रेशर मशीन को जब्त किया है। प्रकरण की अब तफ्तीश की जा रही है।

यहां पढ़ें पूरी कहानी- एक करोड़ का मादक पदार्थ और 9.69 लाख बरामद

पुलिस उपायुक्त पूर्व डॉ.अमृता दुहन ने बताया कि माता का थान पुलिस थाना क्षेत्र में लीलपा भाखर में आज दिन में खनन कार्य करते तीन लोग जख्मी हो गए। विस्फोट किए जाने पर पत्थर उछल कर लोगों के घरों,खिड़कियों पर जाकर गिरे। जिससे वे लोग चोटिल हुए है।

थानाधिकारी शिवलाल मीणा ने बताया कि मौके पर खनिज विभाग अभियंता महेश को भी बुलाया गया। माइंस में खनन के लिए राज लोमरोड को 1999 में वैध लाइसेंस जारी किया गया था। लाइसेंसधारी द्वारा माइंस में पत्थर निकालने का कार्य किया जाता है। लीलपा भाखर में राजेश उर्फ राज लोमरोड ने विस्फोट सामग्री जिलेटिन व डेटोनेटर को लापरवाही से उपयोग में लिया है। जिस कारण से यह घटना हुई है।

केस दर्ज
थानाधिकारी शिवलाल मीणा के अनुसार घायल हुए बाबा रामदेव कॉलोनी लीलपा भाखर निवासी राजेंद्र पुत्र शंकरलाल की तरफ से रिपोर्ट दी गई है।इसमें बासनी तंबोलिया निवासी जेठाराम पुत्र दौलाराम जाट, चौकड़ी खुर्द पीपाड़शहर निवासी भीमसिंह एवं खारिया खंगार के राजेश उर्फ राज लोमरोड के विरुद्ध आरोप लगाए कि उनके कारण घरों और खिड़कियों को नुकसान पहुंचा है।

घरों की खिड़कियों और दरवाजों पर लगे पत्थर 
इस खनन कार्य के समय आज दिन में विस्फोट किए जाने से उछले पत्थर लोगों के घरों और दरवाजों से टक राए,जिस कारण से उन लोगों को चोटें लगी और घरों को भी नुकसान पहुंचा है।

यह लोग हुए घायल 
पत्थर खनन करते समय खान से निकले पत्थर लोगों के घरों और खिड़कियों पर गिरे जिससे राजेंद्र पुत्र शंकरलाल,किरण पत्नी खेताराम एवं रेखा पत्नी रमेश जख्मी हो गए। इनका प्राथमिक उपचार करवाने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन यहां से इंस्टॉल कीजिए https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts