chief-minister-ashok-gehlot-reached-jodhpur

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पहुंचे जोधपुर

  1. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पहुंचे जोधपुर
  • एयरपोर्ट पर जन प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों ने की अगवानी
  • मुख्यमंत्री का एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत

जोधपुर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जोधपुर पहुंचे। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। एयरपोर्ट पर प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग, खेल मंत्री अशोक चांदना,आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत,राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद अध्यक्ष कृष्णा पूनिया,राजस्थान राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल,राजस्थान पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सोलंकी,राजस्थान संगीत नाटक अकादमी की अध्यक्ष बिनाका मालू,रीको अध्यक्ष सुनील परिहार, महापौर कुन्ती देवड़ा,शहर विधायक मनीषा पंवार, लोहावट विधायक किशनाराम विश्नोई,लूणी विधायक महेन्द्र विश्नोई, जसवन्त कछवाहा, सलीम खान, नरेश जोशी,प्रो.अयूब खान आदि ने मुख्यमंत्री की अगवानी की।

ये भी पढ़ें-रेडियोग्राफी दिवस पर रोंजन को श्रद्धासुमन अर्पण 

संभागीय आयुक्त कैलाशचन्द मीना, प्रभारी सचिव डॉ. जितेन्द्र उपाध्याय, जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता, डिस्कॉम एमडी प्रमोद टाक,अतिरिक्त जिला कलक्टर मदनलाल नेहरा, राजेन्द्र डांगा आदि अधिकारियों ने किया स्वागत।

मुख्यमंत्री एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए कहा कि जोधपुर में बनने वाली फिनटेक यूनिवर्सिटी के लिए जोधपुर सांसद व केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से किया आग्रह कि केंद्र सरकार से दो सौ करोड़ दिलवाएं। उन्होंने कहा पहले यूनिवर्सिटी केंद्र सरकार की योजना में शामिल थी। यहां के एमपी ने इसकी मांग की थी केंद्र से कराएंगे,हमने इसे जोधपुर में दिया। लेकिन भारत सरकार ने तो कुछ किया नही अब मैं उनसे मांग करता हूँ कि इस 6 सौ करोड़ योजना में कम से कम 2 सौ करोड़ तो दिला दो।

जोधपुर में इतनी ज्यादा संस्थाओं का होना बहुत बड़ी बात है। किसी शहर में भी इतनी संस्थाएं नही हैं। आज भी जो स्पोर्ट्स के कार्यक्रम हो रहा है यह बड़ी बात है। मुख्यमंत्री ने कहा कि डीजीफेस्ट नव जवानों के लिए बहुत बड़ा प्रोग्राम है। एक प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल और गुजरात मे सरकार विरोधी लहर है जिसका फायदा कांग्रेस को मिलेगा। इसके बाद मुख्यमंत्री एयरपोर्ट से सीधे शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय में होने वाले कार्यक्रम में भाग लेने के लिए रवाना हो गए।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts