बिजली का भुगतान नहीं होने का कहकर शातिर ने खाते से उड़ाए 6.50 लाख

बिजली का भुगतान नहीं होने का कहकर शातिर ने खाते से उड़ाए 6.50 लाख

जोधपुर, शहर के देवनगर हलके में एक बुजुर्ग दंपती से किसी शातिर ने बिजली का बिल भुगतान नहीं होने की एवज में ऐप डाउनलोड करवाने के बाद खाते से 6.50 लाख की नगदी साफ कर दी। पीडि़त बुजुर्ग की तरफ से अब देवनगर थाने में इसकी रिपोर्ट दी गई है। पुलिस इसमें जांच कर रही है। देवनगर पुलिस ने बताया कि 3 ख 17 सीएचबी निवासरी शरद पुत्र सुखदेव प्रसाद माथुर की तरफ की तरफ से केस दर्ज करवाया गया। इसमें बताया कि गत दिनों उनकी पत्नी के मोबाइल पर संदेश मिला कि उनका इलेक्ट्रीसिटी बिल जमा नही हुआ है। इस पर दिए गए नंबर से संपर्क किए जाने पर किसी शातिर ने अपना नाम राजवीर अग्रवाल होना बताया।

इसके बाद उसने बिल भुगतान के लिए कहा कि सर्वर डाउन होने से आपका भुगतान रूका है। इसके लिए अब बैंक ऑफ इंडिया का ऐप डाउन लोड करें। बाद में उस शख्स के बताए अनुसार ऐप डाउन लोड करने के साथ व्यूवर किया गया। शातिर ने पहले उनके खाते में दो रूपए डाले। फिर पीडि़त के खाते से पहले 39 हजार 900 और बाद में 10 हजार रूपए निकल गए। इस पर शातिर से कहा गया तो वह बोला की खाते में रिफंड के लिए अलग से ऐप डाउनलोड करें। इस पर उन्होंने बताए अनुसार ऐप डाउनलोड करते गए और शातिर कई बार में 6.50 लाख की नगदी साफ कर दी। यह रूपए उनके बैंक ऑफ यूनियन शाखा से निकाले गए।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews