Oxygen plant reached urban community health center residency

जोधपुर, महाराजा श्रीअग्रसेन वेलफेयर सोसायटी के सहयोग से शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेजिडेंसी रोड में ऑक्सीजन प्लांट पहुंच गए हैं। इनकों ट्रक से उतारकर लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस दौरान जोधपुर शहर विधायक मनीषा पंवार ने भामाशाहों का आभार जताया। उनकी उपस्थिति में भामाशाहों का स्वागत भी किया गया।

Oxygen plant reached urban community health center residency

महाराजा श्रीअग्रसेन वेलफेयर सोसायटी के संयोजक उमेश लीला और सचिव सुरेंद्र चमड़ीय़ा ने बताया कि कोविड जैसी भयंकर महामारी के समय में ऑक्सीजन की कमी होने से लोग परेशान हैं।

सोसायटी ने करीब दो सप्ताह पहले औरंगाबाद की कंपनी को ऑर्डर दिया था लेकिन कंपनी ने तकनीकी कमियों के कारण डिलीवरी देने में असमर्थता जता दी और 47 लाख रुपए रिफंड कर दिए।

Oxygen plant reached urban community health center residency

जब कंपनी से संतोषप्रद जवाब नहीं मिला तो दीपक अग्रवाल, विवेक अग्रवाल व अमित अग्रवाल को बड़ौदा भेजा गया। उन्होंने वहां एक अन्य कंपनी जो ऑक्सीजन प्लांट बनाती है, से संपर्क किया। कंपनी के मालिक से संपर्क कर हाथों-हाथ ऑक्सीजन प्लांट देने के लिए राजी कर लिया। संस्था के अध्यक्ष सुरेंद्र लीला ने बताया 54.14 लाख रुपए कंपनी के खाते में ट्रांसफर कर एक की जगह दो ऑक्सीजन प्लांट का ऑर्डर किया।

Oxygen plant reached urban community health center residency

ये प्लांट आज शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेजिडेंसी रोड पहुंचे। हालांकि औरंगाबाद की कंपनी की तुलना में बड़ौदा की कंपनी से प्लांट मंगाने में आठ लाख रुपए ज्यादा खर्च आया लेकिन समाज ने अपना वादा पूरा किया। ये दोनों प्लांट प्रति घंटे 10-10 यानी 20 क्यूबिक मीटर ऑक्सीजन तैयार करेंगे, जो 50 मरीजों को 24 घंटे के लिए पर्याप्त होगी।

ये भी पढ़े – माई ख़दीजा हाॅस्पीटल में शुरू हुआ 50 बेड का कोविड वार्ड

शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रेजिडेंसी रोड में ऑक्सीजन प्लांट पहुंचने पर शहर विधायक मनीषा पंवार ने भामाशाहों का का आभार जताया। सीएमएचओ डॉ. बलवंत मंडा ने बताया कि रेजिडेंसी डिस्पेंसरी में अभी 60 ऑक्सीजन युक्त बेड की व्यवस्था की गई है जिसको करीब 100 बेड तक पहुंचाने का लक्ष्य है। यहां ऑक्सीजन प्लांट शुरू होने से शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों का भार बड़े अस्पतालों में नहीं पड़ेगा।