एनडीआरएफ की टीम टनल के अंदर श्रमिकों तक पहुंची

एनडीआरएफ की टीम टनल के अंदर श्रमिकों तक पहुंची

  • सिलक्यारा टनल हादसा
  • मिली सफलता
  • अब जल्दी ही श्रमिकों को बाहर निकल लिया जाएगा

उत्तरकाशी, सिलक्यारा टनल से श्रमिकों को अब जल्दी ही बाहर निकाल लिया जाएगा। आखिर 41 श्रमिकों को शीघ्र ही बाहर निकल लिया जाएगा। आखिरी पाइप अंदर पहुंचते ही एनडीआरएफ की टीम भीतर पहुंच गई है। एनडीआरएफ की टीम अब मजूदरों को बाहर निकाल कर उन्हें चिन्यालीसौड़ अस्पताल ले जाया जाएगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसकी सूचना तत्काल प्रधानमंत्री को दी और प्रधानमंत्री ने सीएम को बधाई दी है। यहां हुए मैन्युअल ड्रिलिंग में पाइप मलबे के पार पहुंच गया है। अब स्केप टनल तैयार की जा रही है। जल्द ही श्रमिकों के बाहर निकाल लिए जाने की उम्मीद है। 17वें दिन इस रेस्क्यू में सफलता मिली है। सभी श्रमिकों को जल्द ही सकुशल बाहर निकाल लिया जाएगा। अब तक कुल 52 मीटर पाइप को पुश कर लिया गया है। अब मात्र 3 मीटर का फासला बांकी था आज उसे भी पूरा कर पाइप आरपार हो गया है। अंदर फंसे सभी श्रमिक सकुशल हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज सुबह सिलक्यारा पहुंच कर रेस्क्यू ऑपरेशन का जायज़ा लिया।मुख्यमंत्री ने टनल के प्रवेश द्वार पर स्थित बाबा बौखनाग के मंदिर पर पूजा अर्चना कर सभी श्रमिकों के सकुशल बाहर आने की प्रार्थना की।

 

यह भी पढ़ें – दुकान में घुसे नकबजन,मोबाइल नगदी के साथ सामान चुराया

आज सुबह मुख्यमंत्री मातली से श्रमिकों का कुशलक्षेम से जानने सिलक्यारा टनल पर पहुंचे। उन्होंने टनल में किए जा रहे मैन्युअली ड्रिलिंग के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि डिगिंग के लिए पाइप में गए श्रमिकों की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जाए। उन्होंने श्रमिकों से वार्ता कर उनका हौसला बढ़ाया एवं राहत बचाव कार्य में जुटे सभी श्रमिकों के काम की सराहना की मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से टनल में फंसे श्रमिकों की स्वास्थ्य पर डॉक्टरों,मनोचिकित्सकों एवं श्रमिकों के परिजनों से वार्ता करने के निर्देश दिए। उन्होंने मीडिया को बताया कि सभी श्रमिक,इंजीनियर, विशेषज्ञ अधिकारी पूरी शिद्दत एवं मेहनत के साथ हर संभव प्रयास कर रहे हैं। अब तक 52 मीटर पाइप को पुश कर लिया गया है। अंदर फंसे सभी श्रमिकों का स्वास्थ्य ठीक है।प्रधानमंत्री के पूर्व सलाहकार एवं उत्तराखंड सरकार के विशेष कार्याधिकारी भास्कर खुल्बे,कमिश्नर गढ़वाल मंडल विनय शंकर पांडे, रेस्क्यू आभियान के समन्वयक सचिव डॉ.नीरज खैरवाल,पीएमओ उपसचिव मंगेश घिल्डियाल,सूचना महानिदेशक बंशीधर तिवारी,जिला कलेक्टर अभिषेक रूहेला,एसडीआरएफ कमांडेंट मणिकांत मिश्रा एवं अन्य लोग मौजूद थे।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts