इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने से जोधपुर सिर्फ एक कदम दूर

इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने से जोधपुर सिर्फ एक कदम दूर

डीआरएम ने देर शाम लिया तैयारियों का जायजा

जोधपुर, मंडल रेल प्रबंधक गीतिका पांडेय ने रविवार को जोधपुर रेलवे स्टेशन पर रेल विद्युतीकरण कार्य का निरीक्षण किया और सोमवार को संरक्षा आयुक्त द्वारा किए जाने वाले निरीक्षण कार्यों के मद्देनजर सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

उल्लेखनीय है कि उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल पर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने का सपना अब साकार होने को है। प्रदेश में 41 साल पहले रेल विद्युतीकरण का पदार्पण होने के बाद अब जोधपुर मंडल भी देर से ही सही मगर इलेक्ट्रिक ट्रेन के संचालन से महज एक कदम की दूरी पर है।

डीआरएम ने बताया कि जोधपुर से मारवाड़ जंक्शन के बीच 104 किलोमीटर रेल खण्ड पर रेल विद्युतीकरण का कार्य युद्धस्तर पर चलाकर पूरा किया गया। विद्युतीकरण कार्य में जुटे कर्मिकों और अधिकारियों ने आखिर निर्धारित समयावधि में विद्युतीकरण कार्य पूरा करने में सफलता हासिल की है। रविवार देर शाम तक जोधपुर रेलवे स्टेशन पर यार्ड और मुख्य प्लेटफार्म पर भी इस कार्य को पूरा करने की मशक्कत देखी गई।

मंडल रेल प्रबंधक का कहना है कि इस बात की खुशी है कि जोधपुर मंडल इलेक्ट्रिक ट्रेन के संचालन से एक नए युग की शुरुआत करने जा रहा है। इससे न सिर्फ यात्री सुविधा में वृद्धि होगी बल्कि पश्चिमी राजस्थान में विकास के नए मार्ग प्रशस्त होंगे। उन्होंने बताया कि जोधपुर से मारवाड़ जंक्शन खंड पर विद्युतीकरण का कार्य पूरा करवा लिया गया है और निर्धारित कार्यक्रमानुसार पश्चिम क्षेत्र संरक्षा आयुक्त आरके शर्मा जोधपुर से मारवाड़ जंक्शन रेल खण्ड पर विद्युतीकरण कार्य का बारीकी से निरीक्षण कर इलेक्ट्रिक ट्रेन चलाने के बारे में उचित दिशा निर्देश देंगे। इसके बाद जोधपुर इलेक्ट्रिक ट्रेन के जरिए अहमदाबाद और मुम्बई से सीधे जुड़ जाएगा।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews