केन्द्र व राज्य सरकार औद्योगिक विकास को सुनहरे आयाम देने को कटिबद्ध-दीया कुमारी

केन्द्र व राज्य सरकार औद्योगिक विकास को सुनहरे आयाम देने को कटिबद्ध-दीया कुमारी

उप मुख्यमंत्री ने किया हस्तशिल्प उत्सव का अवलोकन

जोधपुर,केन्द्र व राज्य सरकार औद्योगिक विकास को सुनहरे आयाम देने को कटिबद्ध- दीया कुमारी। उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी ने शनिवार को जोधपुर के रामलीला मैदान में जिला प्रशासन,जिला उद्योग एवं वाणिज्य केंद्र तथा लघु उद्योग भारती के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित पश्चिमी राजस्थान उद्योग हस्तशिल्प उत्सव 2024 का अवलोकन किया और इसकी सराहना की।उप मुख्य मंत्री ने मंगलमूर्ति भगवान की पूजा अर्चना के उपरान्त मेले के अटल केन्द्रीय पाण्डाल सहित तमाम परिसरों का अवलोकन किया और विभिन्न उत्पादों तथा इनके प्रदर्शन को देखा। उन्होंने हस्तशिल्पियों,उद्यमियों, औद्योगिक विकास तथा विभिन्न उद्यमों से संबंधित अधिकारियों, औद्योगिक संस्थाओं के पदाधिकारियों एवं प्रतिनिधियों आदि से चर्चा की और जानकारी ली।

यह भी पढ़ें – उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी शनिवार को जोधपुर आएंगी

इस अवसर पर कृषि एवं कल्याण राज्यमंत्री राज्य मंत्री कैलाश चौधरी, उद्योग एवं वाणिज्य राज्यमंत्री केके विश्नोई,सूरसागर विधायक देवेन्द्र जोशी,नगर निगम (दक्षिण)महापौर वनिता सेठ,जेडीए पूर्व अध्यक्ष महेंद्र सिंह राठौर,लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष घनश्याम ओझा,देवेन्द्र सालेचा,दलाराम,तुलछाराम,शांति लाल बालड,महावीर चौपड़ा,ज़िला उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के महा प्रबन्धक एसएल पालीवाल सहित जनप्रतिनिधियों,औद्योगिक संस्थाओं के पदाधिकारियों,उद्यमियों,हस्त शिल्पियों,अधिकारियों एवं गणमान्य व्यक्तियों ने उत्सव की गतिविधियों का अवलोकन किया और प्रसन्नता जाहिर की।

लघु उद्योग भारती से आत्मीय जुड़ाव
उप मुख्यमंत्री ने उत्सव की गतिविधियों को देख कर अभिभूत होते हुए कहा कि यह अपने आप में सुन्दर आयोजन है। उन्होंने बताया कि लघु उद्योग भारती से उनका लगभग 5 वर्ष से जुड़ाव है।

अपार संभावनाएं लेंगी आकार
उप मुख्यमंत्री ने लघु उद्योगों, हस्त शिल्प,सौर ऊर्जा आदि के क्षेत्र में अपार संभावनाओं को रेखांकित करते हुए कहा कि इन्हें साकार करने के लिए प्रदेश सरकार एवं केन्द्र मिलकर हर स्तर पर प्रयासों में जुटे हुए हैं। इन क्षेत्रों के विकास एवं विस्तार तथा आत्मनिर्भरता एवं आर्थिक विकास में औद्योगिक क्षेत्रों की भागीदारी बढ़ाने में कहीं कोई कमी नहीं रखी जाएगी।

यह भी पढ़ें – जोधपुर रेल मंडल ने हर्षोल्लास से मनाया 75वां गणतंत्र दिवस

विकसित भारत का संकल्प पूरा करने प्राणप्रण से जुटें
उन्हांंने कहा कि अंतिम पंक्ति तक के पात्र व्यक्ति को केन्द्र एवं राज्य की योजनाओं एवं कार्यक्रमों से जोड़कर लाभान्वित करने और सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए सार्थक गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है और इनके माध्यम से हर पात्र व्यक्ति के उत्थान में जुटने के लिए प्रधानमंत्री के स्वप्न को साकार करने के लिए सभी संभव प्रयासों को मूर्त रूप दिया जा रहा है। इसके लिए विकसित भारत संकल्प यात्रा के माध्यम से सकारात्मक बदलाव और अनवरत उन्नयन का कार्य किया जा रहा है।

समग्र उत्थान हमारा लक्ष्य
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि जन प्रतिनिधियों,अधिकारियों और आम जन के पारस्परिक सहयोग एवं सहभागिता से प्रदेश के समग्र उत्थान के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए सरकार प्रयत्नशील है और इनके साथ चर्चा संवाद कर प्राप्त सुझावों के आधार पर समस्याओं का समाधान किया जाएगा और मिलजुलकर सर्वांगीण पिकास का सुनहरा स्वरूप सामने लाया जाएगा।

उद्योग,हस्तशिल्प और पर्यटन को सम्बल
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी राजस्थान में उद्योग,हस्तशिल्प और पर्यटन आदि क्षेत्रों को वैश्विक मंच प्रदान कर इनके आशातीत विकास को और अधिक तेजी प्रदान करने की दिशा में ऐतिहासिक एवं अनुकरणीय मार्गदर्शन प्रदान कर रहे हैं और इस दिशा में हाल ही फ्रांस के प्रेसीडेंट के साथ जयपुर यात्रा ने ढेरों उपलब्धियों का परिचय कराया है। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परिकल्पना अनुसार 2047 तक विकसित भारत के संकल्प को पूर्ण रूप से साकार करने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है तथा इस लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में हर स्तर पर समर्पित सहभागिता निभायी जा रही है।

यह भी पढ़ें – सांभर उत्सव को रन फेस्टिवल स्तर का बनाएं-दिया कुमारी

सशक्त भागीदारी का आह्वान
उन्होंने महिलाओं से अपनी ताकत पहचानते हुए आगे बढ़ने का आह्वान किया और कहा कि समाज-जीवन के हर क्षेत्र में रचनात्मक सामाजिक, आर्थिक एवं परिवेशीय गतिविधियों में पूरी-पूरी भागीदारी निभाते हुए अपने महत्त्व को सार्थक बनाएं।

जताया जोधपुर का आभार
उप मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि लघु उद्योगों के माध्यम से महिला सशक्तिकरण को और अधिक सुदृढ़ एवं प्रभावी स्वरूप प्रदान किया जा सकता है। दीया कुमारी ने भावपूर्ण स्वागत एवं यादगार आतिथ्य के लिए आयोजकों एवं जोधपुरवासियों के प्रति तहे दिल से आभार जताया।

हर वर्ग के कल्याण का लक्ष्य
उद्योग एवं वाणिज्य,युवा मामले एवं खेल,कौशल,नियोजन,उद्यमिता एवं नीति निर्धारण विभागीय राज्य मंत्री केके विश्नोई ने पश्चिमी राजस्थान में उद्योग जगत की अपार संभावनाओं एवं अनुकूल वातावरण की जानकारी दी। उन्होंने केंद्र सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि सरकार का यही प्रयास रहता है कि हमारे किसानों,काश्तकारों,उद्यमियों, व्यवसायियों सभी को बेहतर एवं उन्नत अवसर और माहौल उपलब्ध हो। इसके लिए सरकार कटिबद्ध है।
विश्नोई ने राम लला की प्राण प्रतिष्ठा की शुभकामनाएं देते हुए आर्थिक आत्मनिर्भरता के लिए हो रहे प्रयासों का जिक्र किया और कहा कि प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना के माध्यम से काश्तकार,कारीगर सहित 18 प्रकार के हुनरमन्द कारीगरों के लिए न केवल स्वावलम्बन बल्कि सम्मान देने का भी क्रियान्वयन हो रहा है। विश्नोई ने बताया कि एफपीओ के माध्यम से कृषक को उद्यमी बनाने के लिए लघु उद्योग भारती प्रभावी प्रयास कर रही है। इसी प्रकार उद्योगों के लिए लघु उद्योग भारती अनुकरणीय कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि पश्चिमी राजस्थान में औद्योगिक विकास के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। इन्हें देखते हुए फसल बीमा नीति, वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट,एफपीओ, पीएम विश्वकर्मा योजना आदि के माध्यम से हर स्तर पर विकास के अवसर उपलब्ध कराने के लिए ठोस प्रयास जारी हैं।

यह भी पढ़ें – बोरानाडा में पकड़ा नकली घी का गोरखधंधा

औद्योगिक विकास के लिए बहु आयामी प्रयास जरूरी
लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष घनश्याम ओझा ने अपने उद्बोधन में क्षेत्र के उद्योगों के विकास के लिए जरूरी कारकों की चर्चा की तथा इनके साथ ही उपलब्धियों,बहु आयामी विकास की अपार संभावनाओं एवं समस्याओं का जिक्र किया और इनके लिए प्रभावी समाधान की जरूरत बताई।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts