accident-happened-due-to-explosion-of-gas-cylinder-in-jodhpur

जोधपुर में गैस सिलेण्डर फटने से हुआ हादसा

  • मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर जताया दुःख
  • घायलों के समुचित उपचार के दिए निर्देश
  • शहर विधायक, जिला कलक्टर और जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी पहुंचे एमजीएच
  • घायलों की कुशलक्ष्रोम पूछी
  • उपचार की जानकारी ली

जोधपुर,मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जोधपुर में मगरा पूंजला एरिया के कीर्ति नगर में गैस सिलेंडर फटने से हुए हादसे के प्रति दुःख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दर्दनाक हादसे में 4 लोगों की मृत्यु एवं कई लोगों के घायल होने की जानकारी बेहद दुःखद है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट में लिखा कि उन्होंने स्थानीय प्रशासन से पूरी घटना की जानकारी ली है एवं घायलों के समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं।
गहलोत ने इस कठिन घड़ी में शोकाकुल परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएं जताते हुए ईश्वर से उन्हें इस आघात को सहने की शक्ति प्रदान करने एवं दिवंगतों की आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की है। इसके साथ ही उन्होंने हादसे में घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।

इस हादसे की जानकारी पाकर शहर विधायक मनीषा पंवार एमजीएच पहुंची और घायलों की चिकित्सा के बारे में जानकारी ली। शहर विधायक ने इस दुर्घटना पर गहरा दुःख जताया और घायलों के परिजनों से मिलकर धीरज बंधाया और त्वरित एवं बेहतर ईलाज के लिए सरकार की ओर से भरोसा दिलाया। शहर विधायक ने दुर्घटना के कारणों की जांच का भी आश्वासन दिया। उन्होंने बताया कि इस मर्मान्तक दुर्घटना को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जिला प्रशासन के अधिकारियों एवं जन प्रतिनिधियों के निरन्तर सम्पर्क में हैं तथा जानकारी ले रहे हैं। विधायक मनीषा पंवार के साथ नरेश जोशी, सलीम खान ने भी अस्पताल पहुंच कर चिकित्सकीय प्रबन्धों की जानकारी ली।

गैस सिलेण्डर फटने की दुर्घटना की सूचना पाते ही जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता प्रशासनिक अधिकारियों के साथ एमजीएच पहुंचे और चिकित्सकों से ईलाज के बारे में जानकारी ली और परिजनों से बातचीत की। जिला कलक्टर ने पूरी घटना के बारे में अद्यतन जानकारी से मुख्यमंत्री को अवगत कराया। जिला कलक्टर ने बताया कि इस दुर्घटना में अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार 4 जनों की मृत्यु हुई है तथा 16 घायल हुए हैं। इनका ईलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि डॉक्टरों की पूरी टीम घायलों के उपचार में जुटी हुई है। प्रशासनिक अधिकारी घायलों के परिजनों से निरन्तर सम्पर्क बनाए हुए हैं। जिला कलक्टर ने आश्वस्त किया कि ईलाज में किसी भी प्रकार की कोई कमी आने नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि दुर्घटना की जांच होगी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews