abvps-mahakumbh-in-jodhpur-from-january-13

जोधपुर में एबीवीपी का महाकुंभ 13 जनवरी से

जोधपुर में एबीवीपी का महाकुंभ 13 जनवरी से

जोधपुर,अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जोधपुर प्रांत का 58वां प्रांत अधिवेशन 13,14 व 15 जनवरी 2023 को ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल,शिकारगढ़ में आयोजित होगा। अधिवेशन में राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री,राष्ट्रीय मंत्री,क्षेत्रीय संगठन मंत्री, प्रान्त के पदाधिकारी मौजूद रहेंगे। तीन दिवसीय अधिवेशन में जोधपुर प्रांत के सभी 21 जिलों से 1000 से अधिक प्रतिनिधि भाग लेंगे।

प्रांत मंत्री अविनाश खारा ने आज एक प्रेस वार्ता में बताया कि प्रांत अधिवेशन में विभिन्न क्षेत्रों के शिक्षण संस्थानों से छात्र-छात्राएं एवं प्राध्यापक प्रांत की संस्कृति,शिक्षा, सुरक्षा जैसे विषयों पर मंथन करेंगे। अधिवेशन में दिव्य और भव्य लघु राजस्थान का दर्शन होगा। प्रांत के अंतर्गत आने वाले विश्वविद्यालय सहित प्रांत के विद्यार्थियों एवं शिक्षकों के साथ तकनीकी,प्रबंधन, पॉलीटेक्निक,आईटीआई व अन्य शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी इस अधिवेशन में भाग लेंगे।

ये भी पढ़ें- जिन्होंने भारत को तोड़ा,उसके साथ हाथ नहीं मिलाएगी जनता-शेखावत

उन्होंने बताया कि तीन दिन तक चलने वाले प्रान्त अधिवेशन में 13 जनवरी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय प्रचारक निम्बाराम द्वारा प्रदर्शनी उद्घाटन एवं सायं 4 बजे मुख्य अतिथि भारत सरकार में जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत,एबीवीपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी के विशेष आमंत्रित सदस्य ममता यादव द्वारा अधिवेशन का उद्घाटन किया जाएगा। 58वें प्रान्त अधिवेशन के स्वागत समिति अध्यक्ष समाजसेवी मनोहरलाल पुंगलिया एवं स्वागत समिति सचिव युवा उद्यमी कमलेश पटेल रहेंगे।

इस अधिवेशन में शैक्षणिक विषयों पर चर्चा होगी एवं विश्वविद्यालयों में आने वाली समस्याओं पर समाधान के सूझावों को सम्मिलित किया जाएगा। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन में आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए मंथन होगा एवं प्रभावी तरीक़े से लागू करने योजना बनाई जाएगी। वर्ष भर में परिषद के कार्यो की एक प्रदर्शनी लगाकर सभी को अवगत करवाया जाएगा।

ये भी पढ़ें- बैंक मैनेजर पार्ट टाइम जॉब के लिए आया झांसे में,28 लाख गवां बैठा

शहर के मध्य में 14 जनवरी को एबीवीपी की शोभायात्रा का आयोजन होगा। अधिवेशन के शोभायात्रा में विभिन्न क्षेत्रों से आए प्रतिनिधियों में अलग भाषा-अलग वेश के समागम से भारत की एकता और अखंडता का दिव्य स्वरूप देखने को मिलेगा।15 जनवरी को सायं में समापन सत्र होगा। इस अवसर पर अधिवेशन के पत्रक का विमोचन भी किया गया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts