50-bed-Covid-ward-begins-at-mai-khadija-hospital

शहर विधायिका,महापौर,उपमहापौर सहित कई लोगों ने की शिर्कत

जोधपुर, ईद उल फितर के खास मौके पर कमला नेहरू नगर, पाल लिंक रोड स्थित माई ख़दीजा हाॅस्पीटल एण्ड रिसर्च सेन्टर में 50 बेड के कोविड वार्ड की विधिवत् शुरूआत की गई। मारवाड़ मुस्लिम एज्यूकेशनल एण्ड वेलफेयर सोसायटी के सीईओ मोहम्मद अतीक ने जानकारी दी की सोसायटी का इतिहास रहा है कि संकट और विषम परिस्थितियों के दौर में आम आदमी के काम आए और यहीं हमारे नबी मुहम्मद सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम का पैगाम भी है।

50 bed Covid ward begins at mai khadija hospital.jpg

इसी आमजन की सेवा के नेक मकसद से माई खदीजा अस्पताल में कोविड वार्ड की स्थापना की गई। उन्होंने इस कोविड वार्ड की सफलता के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से भेजे गये बधाई संदेश को भी पढकर सुनाया।
सोसायटी के जनरल सेक्रेट्री निसार अहमद खिलजी ने बताया कि इस वार्ड में शहर के अन्य अस्पतालों की तुलना में बहुत ही कम शुल्क पर इलाज शुरू हो गया है तथा आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों के लिए सोसायटी के बनाये विशेष फंड के सहयोग से इलाज किया जा रहा है।

ये भी पढ़े :- प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 8 वीं किश्त जारी

माई खदीजा हास्पीटल के डायरेक्टर जितेन्द्र खत्री ने कार्यक्रम में हाॅस्पीटल एवं नर्सिंग काॅलेज के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि इस कोविड वार्ड में ऑक्सीजन सहित सभी आधारभूत सविधाओं एवं सम्पूर्ण एक्सपर्ट नर्सिंग स्टाॅफ की व्यवस्था की गई है।

माई खदीजा हास्पीटल के मेडिकल एडवाइजर फिरोज अहमद काजी ने जानकारी दी कि कार्यक्रम में समाज सेवी जसवंत सिंह कच्छवाहा,शहर विधायक मनीषा पंवार, महापौर कुंती देवड़ा ने अपने सम्बोधन में इस कोविड वार्ड की स्थापना को समाज सेवा का सर्वोत्तम कार्य बताया। सोसायटी की ओर से पिछले साल भी फ्री राशन के रूप में किये गये राहत कार्यो की सराहना की।

समारोह में उपमहापौर अब्दुल करीम जाॅनी, पूर्व उपमहापौर न्याज मोहम्मद, पार्षद शहाबुद्दीन खान, पार्षद निसार अहमद कुरैशी, पूर्व पार्षद फरजाना चौहान, लियाकत अली, दीपक पंवार, मौलाना आज़ाद यूनिवर्सिटी के रजिट्रार अनवर अली खान, सोसायटी सदस्य हाजी मोहम्मद इस्हाक, जुगनू खान, शब्बीर हुसैन, मोहम्मद साबिर, मोहम्मद आसिफ, शकील खिलजी, डीसीबी बैंक मैनेजर शफी मोहम्मद, मोहम्मद इंसाफ व यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार मोहम्मद अमीन सहित शहर के कई लोगों ने शिर्कत की।