सर्जरी करवाकर घर लौटी

सोनू सूद ने बचाई एक मासूम की जिंदगी

जोधपुर, जालोर के दिहाड़ी मजदूर भगाराम की 21 दिन की बालिका मुंबई में दिल के छेद की सर्जरी करवाकर घर लौट आई है। फिल्म अभिनेता व समाजसेवी सोनू की सहायता से उसकी मुंबई में सफल सर्जरी हो पाई।

यह बालिका आज सुबह परिजनों के साथ वायुमार्ग से जोधपुर पहुंची और यहां से सड़क़ मार्ग से अपने घर के लिए रवाना हुई। बच्ची के परिवार ने सोनू सूद की इस दयालुता से प्रभावित होकर बेटी का नाम ही सोनू रख दिया है।

सर्जरी करवाकर घर लौटी

जालोर के गोडीजी निवासी भगाराम माली के घर गत एक जून को बच्ची का जन्म हुआ था। बच्ची के दिल में छेद था। निजी अस्पताल में इसके इलाज के लिए आठ लाख रुपए खर्च बताया गया। परिवार की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी। पड़ोसी दीपक सोलंकी के कहने पर सांचौर निवासी योगेश जोशी ने सोशल मीडिया के 8i से सोनू सूद से मदद मांगी।

जानकारी मिलते ही सोनू ने 10 जून को जोधपुर से प्रतिनिधि हितेश जैन को जालोर भेजा। बच्ची को जोधपुर लाकर यहां से फ्लाइट से मुंबई ले जाना था। सांस में परेशानी होने की वजह से बच्ची को एंबुलेंस में 0

वहां 14 जून को उसकी सर्जरी हुई। रविवार को उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। उसे मुंबई से जोधपुर लाने के लिए सोनू सूद के जोधपुर प्रतिनिधि हितेष जैन मुंबई पहुंचे और सुबह फ्लाइट से जोधपुर लेकर आए। यहां बच्ची को सड़क़ मार्ग से जालोर ले जाया गया।

उसके पिता भगाराम का कहना है कि सोनू सूद ने उनकी बेटी का दूसरा जीवन दिया है, वे नहीं होते तो बच्ची को कोई नही बचा सकता था। यह जीवन उन्हीं का दिया हुआ है, इसीलिए बच्ची का नाम ही सोनू रख दिया है। हितेष जैन ने बताया कि बच्ची की मुंबई के एसआरसीसी अस्पताल में सर्जरी करवाई गई। अब वह पूरी तरह स्वस्थ है।

>>> योग विद्या विश्व में भारत की पहचान- शेखावत

Amazon
Click on image 👆