जोधपुर जेल में पुस्तकालय

जोध्पुर, कहते हैं हर इंसान से अपने जीवन में गलतियां होती हैं और उन गलतियों को सुधारने का मौका हर इंसान को मिलना ही चाहिए। हमें सही समय का इंतजार करना चाहिए और सही समय कहकर नहीं आता है। उसके लिए किताबों का सहारा अगर ले लिया जाए तो समय अपने आप से सही बन जाता है। स्वर्ण भारत ट्रस्ट की प्रदेश प्रभारी बिंदु टाक के नेतृत्व में जेल लायब्रेरी का आगाज जोधपुर सेंट्रल जेल में किया गया।

पुस्तकालय परिषद की ज्वाइंट सेक्रेट्री डॉ. बिंदु टाक केन्द्रीय कारागार में जेल अधीक्षक ओमप्रकाश शर्मा की उपस्थिति में महिला कैदियों से रूबरू हुई। इसी क्रम में सुधारात्मक दंड के दृष्टिगत तमाम कैदियों और उनके बच्चों के बेहतर जीवन, विकास और समाज की मुख्य धारा से उन्हें जोडऩे के लिए श्रेष्ठ पुस्तकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने की दिशा में यह कदम उठाया गया है। स्वर्ण भारत ट्रस्ट की ओर से जेल में रहने वाले कैदियों और उनके परिवार के सुधार एवं सर्वांगीण विकास के लिए केंद्रीय कारागार जोधपुर में जेल अधीक्षक के साथ आधुनिकतम पुस्तकालय खोलने की योजना पर विस्तृत चर्चा हुई एवं ट्रस्ट की ओर से पुस्तकें भेट की गई। चर्चा में जेल उपअधीक्षक वैभव भारद्वाज, जोधपुर विश्वविद्यालय के छात्र मनीष भाटी और समस्त जेल के स्टाफ शामिल हुए।

ये भी पढें – विभिन्न मांगों को लेकर मंत्रालयिक महासंघ ने कलेक्टर को दिया ज्ञापन

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews