नीलामी में ज्वैलर को 1.20 करोड़ का नकली सोना देकर ठगा

नीलामी में ज्वैलर को 1.20 करोड़ का नकली सोना देकर ठगा

मणिपुरम्म फाइनेंस लिमिटेड का आया सच सामने, केस दर्ज

जोधपुर, गोल्ड पर फाइनेंस करने वाली नामी गिरामी कंपनी मणिपुरम्म फाइनेंस लिमिटेड के खिलाफ धोखा धड़ी में केस दर्ज करवाया गया है। स्थानीय ज्वैलर को नीलामी में तीन किलो सोना खरीदना महंगा पड़ गया। उसे नकली सोना देकर 1.20 करोड़ की ठगी कर ली गई। पीड़ित ने अब उसके खिलाफ महामंदिर थाने में रिपोर्ट दी है। इस फाइनेंस कंपनी की कई जगहों पर शाखाएं हैं। बालोतरा वाली शाखा से 15 फीसदी असली सोना मिला, जबकि 85 फीसदी नकली था।

महमंदिर थाने के एएसआई नेमीचंद ने बताया कि सुभाष चौक रातानाडा निवासी तुलसीराम सोनी पुत्र चंपालाल सोनी की तरफ से रिपोर्ट दी गई। इसमें बताया कि उसकी एक ज्वैलरी की दुकान पावटा स्थित अक्षय होटल के नजदीक नवदुर्गा ज्वैलर्स नाम से है। वह स्वर्णाभूषण का कारोबार करता है। उसने महामंदिर की मणिपुरम्म फाइनेंस लिमिटेड से नीलामी में सोना बिकने की जानकारी पर संपर्क किया। नीलामी प्रक्रिया गत वर्ष जून से लेकर अक्टूबर के बीच हुई थी। फाइनेंस कंपनी की तरफ से अपनी विभिन्न ब्रांचों जिनमें बालोतरा,जोधपुर,नागौर और चितौडग़ढ़ आदि जगहों से उसे सोना मिला था।

जून में नीलामी प्रक्रिया के समय ही उसने 10-15 लाख रूपए नीलामी का सोना खरीद के लिए दिया गया था। बाद में अक्टूबर को उसने कंपनी में एक करोड़ से ज्यादा रूपए दिए। सोना तीन किलो से ज्यादा था। मगर जब उसे मानक पैमाने पर जांचा गया तो वह नकली मिला। बालोतरा वाली शाखा से तो केवल 15 टंच ही सोना था बाकि नकली था। जबकि कायदे के मुताबिक 88 टंच सोना होना जरूरी है। पीडि़त ने अपने साथ हुई एक करोड़ बीस लाख की ठगी को लेकर अब महामंदिर थाने में इसकी रिपोर्ट दी है। महामंदिर में ही उसकी सबसे बड़ी ब्रांच है जहां से खरीदफरोख्त आरंभ की गई। फिलहाल पुलिस ने प्रकरण का अनुसंधान आरंभ किया है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews