grand-parents-day-celebrated-in-kendriya-vidyalaya-1-air-force

केंद्रीय विद्यालय-1 वायुसेना में मनाया गया ग्रैंड पेरेंट्स डे

केंद्रीय विद्यालय-1 वायुसेना में मनाया गया ग्रैंड पेरेंट्स डे

जोधपुर,केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-1 वायुसेना,जोधपुर में न्यूनतम साझा कार्यक्रम योजना के तहत शनिवार को ग्रेंड पेरेंट्स डे मनाया गया। बच्चों में नैतिक मूल्यों का विकास एवं दादा- दादी और नाना-नानी के प्रति सम्मान के लिए प्रतिवर्ष ग्रेंड पेरेंट्स डे मनाया जाता है।

कार्यक्रम का शुभारम्भ प्राचार्य अशोक कुमार वर्मा मुख्य अतिथि एवं दादा-दादी किशोर कुमार चौधरी और गीता शर्मा विशिष्ट अतिथि ने माँ सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित कर एवं पुष्प अर्पित करके किया। शुरुआत मुख्य अध्यापक आर. आर आजाद के स्वागत भाषण एवं बच्चों द्वारा प्रस्तुत स्वागत गीत से हुआ।

ये भी पढ़ें-बलिदान दिवस पर परमवीर मेजर शैतान सिंह को दी श्रद्धांजलि

दादाजी की छड़ी हूँ मैं गाने पर नृत्य करके बच्चों ने यह संदेश दिया कि उनके जीवन में दादा-दादी का होना कितना आवश्यक है। उनके बिना उनका बचपन अधूरा है और जब भी उनको सहारे की जरूरत पड़े तो हम बच्चों को उनकी छड़ी बनकर खड़ा होना चाहिए। नन्हें-मुन्हे बच्चों ने हिन्दी कविता,एकल गान नृत्य एवं अंग्रेजी कविता के द्वारा मनमोहक प्रस्तुतियाँ देकर दादा-दादी व नाना- नानी को अभिभूत किया।

grand-parents-day-celebrated-in-kendriya-vidyalaya-1-air-force

कार्यक्रम में दादा-दादी एवं नाना नानी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि सभी को समय निकालकर बच्चों का मार्गदर्शन करना चाहिए। सभी ने मुक्त कंठ से कार्यक्रम की सराहना की और आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में लगभग 300 दादा-दादी एवं नाना नानी उपस्थित थे। कार्यक्रम के बीच में दादा-दादी एवं नाना नानी के लिए मनोरंजक प्रतियोगिताएँ भी हुई जिसमे प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पाने वालों को विद्यालय के प्राचार्य द्वारा उपहार देकर सम्मानित किया गया।

ये भी पढ़ें-बम्बा मोहल्ला व फतेह सागर में सीसी सड़क निर्माण कार्य का शिलान्यास

इस अवसर पर प्राचार्य अशोक कुमार वर्मा ने आज के परिपेक्ष्य में बुजुगों की अहमियत पर प्रकाश डाला।उन्होंने बच्चों को बुजुर्गों की सेवा करके आशीर्वाद लेने हेतु प्रेरित किया। सभी मेहमानों को वन विभाग,जोधपुर और विद्यालय की ओर से एक-एक पौधा भेंट कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। अंत में वरिष्ठ अध्यापक पंकज सोरल ने धन्यवाद ज्ञापन कर कार्यक्रम का समापन किया। संचालन सरिता बिश्नोई और प्रीति सोनी ने किया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts