एमडीएमएच में स्टेंट अस्सिटेड कॉइलिंग का पहला ऑपरेशन सफल

एमडीएमएच में स्टेंट अस्सिटेड कॉइलिंग का पहला ऑपरेशन सफल

जोधपुर,एमडीएम अस्पताल में स्टेंट अस्सिटेड कॉइलिंग का पहला ऑपरेशन सफल।एमडीएम अस्पताल की न्यूरो इंटरवेंशन लैब में इंडो वैस्कुलर तकनीक से होने वाले ऑपरेशन की श्रृंखला में इंटरनल केरॉटिड आर्टरी के कैवरनस सेगमेंट के स्यूडो एन्यूरिज्म का स्टैंट की कॉइलिंग से सफलता पूर्वक ऑपरेशन किया। न्यूरोसर्जरी विभाग अध्यक्ष डॉक्टर शरद थानवी ने बताया कि 65 वर्षीय महिला तेज सर दर्द एवं बाई आंख के पीछे दर्द की शिकायत के साथ न्यूरोसर्जरी विभाग में भर्ती हुई जिसकी संपूर्ण जांच सीटी ब्रेन एवं सीटी एंजियोग्राफी में लेफ्ट केवर्नस साइनस में एन्यूरिज्म पाया गया जिसकी विस्तृत जांच हेतु न्यूरो इंटरवेंशन लैब में डीएसऐ किया गया जिसमें लेफ्ट इंटरनल कैरोटिड आर्टरी के कैवर्नस सेगमेंट में स्यूडो एंयूरिस्म की पुष्टि हुई जो धमनी की दीवार के कमजोर होने की वजह से होता है यह एंयूरिस्म आकार में बड़ा(जायंट एन्यूरिज्म) एवं वाइड नेक पाया गया जिसके लिए स्टेन्ट असिस्टेड कॉइलिंग का ऑपरेशन करना तय किया गया।

यह भी पढ़ें – नर्सिग नेताओं ने किया एमजीएच अधीक्षक भाटी का स्वागत

4 घंटे चले ऑपरेशन में मरीज की पैर की धमनी फीमोरल आर्टरी से दिमाग की धमनी तक पहुंचकर पहले स्टेन्ट लगाया गया जिससे ब्लड के फ्लो को कंटिन्यू कर एन्यूरिज्म को कॉइलिंग से फिल किया गया। ऑपरेशन पश्चात मरीज पूर्णता स्वस्थ है। ऑपरेशन करने वाली टीम में न्यूरो सर्जरी विभाग अध्यक्ष डॉक्टर शरद थानवी,एसएम एस जयपुर से आए डॉक्टर अनुराग चौधरी,सहायक आचार्य डॉक्टर हेमंत बेनीवाल एवं डॉ हितेश बूलचंदानी, रेजिडेंट डॉ लखमीचंद सिन्सिन्वार,डॉ राहुल राय एवं डॉ अमन राज सम्मिलित थे। निश्चेतना विभाग की तरफ से विभाग अध्यक्ष डॉक्टर सरिता जनवेजा,वरिष्ठ आचार्य डॉक्टर शोभा उज्जवल एवं डॉ गीता सिंगारिया एवं सहायक आचार्य डॉ मनीष झा एवं रेजिडेंट डॉक्टर हर्षित सम्मिलित थे। न्यूरो इंटरवेंशन लैब इंचार्ज रामप्रसाद,भरत,न्यूरो इंटरवेंशन टेक्नीशियन अरविंद एवं हनुमंत ने ऑपरेशन में योगदान दिया। एमडीएम अस्पताल अधीक्षक डॉ विकास राजपुरोहित ने बताया यह ऑपरेशन पूर्णतः निःशुल्क किया गया जिसका प्राइवेट में इलाज होने पर 12 से 14 लाख का खर्च होता। मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉक्टर दिलीप कच्छवाहा ने ऑपरेटिंग टीम को बधाई देते हुए इस प्रकार के ऑपरेशन की निरंतरता पर जोर दिया।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts