नागौरी गेट में फायरिंग और टी स्टाल पर हुआ हमला एक ही पार्टी द्वारा करने का अंदेशा

नागौरी गेट में फायरिंग और टी स्टाल पर हुआ हमला एक ही पार्टी द्वारा करने का अंदेशा

  • पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर पुत्र सहित एक अन्य संदिग्ध को पकड़ा
  • पूछताछ जारी

जोधपुर, कमिश्ररेट के जिला पूर्व में रविवार की रात को पहले नागौरी गेट गली नंबर 4 में फायरिंग हुई थी। हमलावार दहशत फैलाते हुए भाग निकले। बाद में रात साढ़े 11 बजे के आस पास बोंबे मोटर्स के पास एक टी स्टाल के बाहर स्कार्पियो से वहां बैठे युवको को मारने के इरादे से गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया था। पुलिस ने दोनों प्रकरण में एक ही पार्टी के हाथ होने की संभावना के चलते कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लेकर पड़ताल आरंभ की है।

इसमें एक हिस्ट्रीशीटर का पुत्र व उसका साथी शामिल बताया गया है। फिलहाल पुलिस इसकी तस्दीक कर रही है। टी स्टाल के बाहर फायरिंग की जानकारी पुलिस को दी गई थी। मगर पुलिस ने इससे इंकार किया था। मगर नागौरी गेट में फायरिंग होने की पुष्टि की गई है। पुलिस मामले में बुधवार तक बड़ा खुलासा करने के साथ हथियार भी बरामद कर सकती है।

प्रतापनगर सदर पुलिस के अनुसार उमराव खां बिल्डिंग के पास के पास में रहने वाले पीर मोहम्मद की तरफ से मामला दर्ज करवाया गया था। इसमें बताया कि रविवार की देर रात उसका पुत्र हबीब खां, भतीजा फरीद खां और अन्य परिचित एक टी स्टाल के बाहर बैठे थे। तब एक स्कार्पियो में सवार होकर आए अशफाक पुत्र मुन्ना भिश्ती,सनी हंस,आलू भिश्ती, अरविंद,अमान आदि ने उसके पुत्र और भतीजे को मारने का प्रयास किया। बचाव के लिए गाड़ी पर पत्थर फेंके जाने पर आरोपियों ने गाड़ी को पीछे दौड़ाया। पीर मोहम्मद का आरोप है कि आरोपी अशफाक ने दो राउण्ड फायरिंग की थी। मगर वह लोग बच गए। दहशत फैलाकर बदमाश वहां से भाग गए। पुलिस ने इसमें फायरिंग से इंकार किया है।

यह भी ज्ञात रहे कि रविवार की रात को ही नागौरी गेट गली नंबर 4 में कुछ बदमाशों ने रंजिशान फायरिंग की थी। बाद में गाडिय़ों से फरार हो गए थे। इस घटना के बाद ही रात को बोंबे मोटर्स के पास टीस्टाल के बाहर वारदात की गई। पुलिस ने दोनों प्रकरण में समानता मान कर दो तीन संदिगधों को पकड़ा है। इसमें एक हिस्ट्रीशीटर का पुत्र भी शामिल है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews