लघु एवं मझोले समाचार पत्रों का उत्पीड़न रोकने की मांग

लघु एवं मझोले समाचार पत्रों का उत्पीड़न रोकने की मांग

  • विज्ञापन नीति की खामियों को दूर करने की उठी मांग
  • आरएनआई व सीबीसी की कार्यशैली की हुई निन्दा

रिपोर्ट-मोहिनी दीपचंद्र

वेरावल(सोमनाथ) गुजरात,लघु एवं मझोले समाचारपत्रों का उत्पीड़न रोकने की मांग।एसोसिएशन ऑफ स्मॉल एण्ड मीडियम न्यूजपेपर्स ऑफ इण्डिया की राष्ट्रीय परिषद की बैठक माहेश्वरी भवन के निकट स्थित टीएफसी सभागार में आयोजित की गई। बैठक का शुभारम्भ दीप प्रज्वलित कर किया गया। तत्पश्चात गुजरात इकाई अध्यक्ष मयूर बोरीचा व अन्य पदाधिकारियों ने बैठक में शामिल होने वाले सदस्यों व मंचासीन पदाधिकारियों का सम्मान किया। इस दौरान सोमनाथ ट्रस्ट के प्रबंधक ने मंचासीन पदाधिकारियों का सम्मान किया। बैठक में गुजरात,राजस्थान,उत्तर प्रदेश,महाराष्ट्र,उड़ीसा,कर्नाटक, मध्यप्रदेश,उत्तराखंड आदि राज्यों की इकाइयों के अध्यक्ष व पदाधिकारी शामिल हुए और अपने अपने राज्यों से प्रकाशित होने वाले समाचारपत्र/ पत्रिकाओं के समक्ष आने वाली समस्याओं से अवगत कराया और उनका निराकरण करवाने की मांग रखी। बैठक में सीबीसी,आरएनआई की कार्यशैली की आलोचना करते हुए कहा गया कि इनके द्वारा आए दिन ऐसे नियम थोपे जा रहे हैं जिसके कारण लघु एवं मझोले वर्ग का विकास दर प्रभावित हो रहा है और प्रकाशक परेशान हो रहे हैं। कुछ राज्यों में सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग की कार्यशैली की आलोचना की गई और बताया गया कि स्थानीय स्तर पर परेशान किया जा रहा जा है।

यह भी पढ़ें – सर्दी में परिवार गहरी नींद सोता रहा, चोर सात लाख के जेवरात और नगदी ले गए

अनेक राज्यों से शामिल हुए सदस्यों द्वारा दी गई जानकारी के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष केशव दत्त चंदोला ने कहा कि एसोसिएशन की इकाइयां अपनेअपने राज्यों की समस्याओं को लिखित रूप से भेजें जिससे कि उन्हें सम्बन्धित विभाग अथवा मंत्रालय को भेज कर उनका निराकरण करवाने का प्रयास किया जा सके। इस दौरान चंदोला ने कहा कि सरकारी मशीनरी जिस तरह से छोटे व मझोले वर्ग के अखबारों को परेशान कर रही है वह बहुत ही निंदनीय है और उसे कतई स्वीकार्य नहीं है। यह भी कहा कि सभी राज्य नियमित बैठक करें और अखबारों की समस्याओं को भेजें। बैठक को राष्ट्रीय महासचिव शंकर कतीरा,राष्ट्रीय सचिव डॉ.अनन्त शर्मा व प्रवीण पाटिल,उप्र राज्य इकाई के अध्यक्ष व भारतीय प्रेस परिषद के सदस्य श्याम सिंह पंवार,गुलाब सिंह भाटी,दीपक भाई ठक्कर ने सम्बोधित कर अखबारों की समस्याओं को उठाया। गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र भाई पटेल व्यस्तता के चलते बैठक में शामिल नहीं हो पाये,अतएव उन्होंने पत्र भेज कर बैठक के सफल आयोजन की शुभकामनाएं पत्र के माध्यम से प्रेषित कीं। बैठक में गुजरात,उप्र,मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र,उड़ीसा,कर्नाटक,उत्तराखंड, राजस्थान से प्रकाशित होने वाले अनेक समाचारपत्रों के प्रकाशक मौजूद थे।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts