फुलेरा-गोविंदी के बीच 126 की स्पीड से दौड़ी सीआरएस स्पेशल ट्रेन

फुलेरा-गोविंदी के बीच 126 की स्पीड से दौड़ी सीआरएस स्पेशल ट्रेन

  • 26 किमी रेल मार्ग का दोहरीकरण का कार्य लगभग पूरा
  • दो दिनों तक मोटर ट्रॉली से निरीक्षण के बाद सफल रन ट्रायल

जोधपुर,फुलेरा-गोविंदी के बीच 126 की स्पीड से दौड़ी सीआरएस स्पेशल ट्रेन।सीआरएस स्पेशल ट्रेन द्वारा 126 किलोमीटर प्रतिघंटा की स्पीड से सफल रन ट्रायल के साथ ही फुलेरा- गोविंदी मारवाड़ रेलवे स्टेशनों के बीच सीआरएस निरीक्षण बुधवार को पूरा हो गया।संरक्षा आयुक्त(वेस्टर्न सर्किल) आर के शर्मा ने उत्तर पश्चिम रेलवे जोन व जोधपुर मंडल के आला अधिकारियों के साथ मंडल के फुलेरा से गोविंदी मारवाड़ रेलवे स्टेशनों के मध्य करवाए गए रेल दोहरीकरण कार्यों का मोटर ट्रॉली से गहन निरीक्षण करने के बाद बुधवार अपराह्न सीआरएस स्पेशल ट्रेन से 126 किमी प्रतिघंटा के स्पीड से सफल रन ट्रायल लिया।

यह भी पढ़ें- आशाराम एम्स में भर्ती,सीने में दर्द की शिकायत

बिछाई गई नई दोहरी रेल लाइन पर सीआरएस स्पेशल ट्रेन फुलेरा से अपराह्न 4.47 बजे चलकर 26 मिनट पश्चात 5.13 बजे गोविंदी मारवाड़ पहुंच गई। इस दौरान जोन के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी(निर्माण)ओपी तंवर,डीआरएम पंकज कुमार सिंह व अनेक वरिष्ठ अधिकारी साथ थे। इससे पहले संरक्षा आयुक्त शर्मा ने बुधवार सुबह गुढा रेलवे स्टेशन का निरीक्षण कर यात्री सुविधाओं और सुरक्षा मानकों की जांच की। बाद में उन्होंने मोटर ट्रॉली द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों के साथ गुढा से फुलेरा स्टेशनों के बीच दोहरीकृत लाइन का बारीकी से निरीक्षण किया तथा मार्ग के स्टेशन सांभर लेक पर यात्री सुविधाओं का जायजा लिया। फुलेरा रेलवे स्टेशन पर अधिकारियों के साथ बैठक के बाद उन्होंने स्पीड ट्रायल लिया। उल्लेखनीय है कि संरक्षा आयुक्त ने इस रेल मार्ग पर मंगलवार को दोहरी रेल लाइन का निरीक्षण शुरू करते हुए पहले दिन गोविंदी मारवाड़ से गुढा स्टेशनों के बीच मोटर ट्रॉली से गहन निरीक्षण किया था।

शेष 24 किमी लाइन का दोहरीकरण होगा शीघ्र
प्रतीक्षित कुचामन सिटी-फुलेरा रेल मार्ग के दोहरीकरण कार्य के अंतर्गत फुलेरा से गोविंदी मारवाड़ रेलवे स्टेशनों के बीच 26 किमी रेल लाइन का दोहरीकरण किया जा चुका है तथा परियोजना के अंतिम चरण में गोविंदी मारवाड़ से कुचामन सिटी स्टेशनों के बीच दोहरीकरण कार्य भी जल्दी पूरा करने के प्रयास किए जा रहे है तत्पश्चात राइकाबाग से फुलेरा स्टेशनों के बीच दोहरीकरण की परियोजना पूरी हो जाएगी।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन यहां से इंस्टॉल कीजिए https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts