कलक्टर ने जिले में नहरबंदी के दौरान पेयजल आपूर्ति सुचारू बनाये रखने के दिए निर्देश

कलक्टर ने जिले में नहरबंदी के दौरान पेयजल आपूर्ति सुचारू बनाये रखने के दिए निर्देश

  • जिले में सोमवार से 60 दिवसीय नहरबंदी शुरू
  • समस्याग्रस्त शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में टेंकरों से होगी पेयजल आपूर्ति

जोधपुर, जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता ने सोमवार को राजीव गांधी सेवा केन्द्र में हुई बैठक में जिले के अधिकारियों को सोमवार से शुरू 60 दिवसीय नहरबंदी के दौरान व गर्मी के मौसम में शहरी व ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति सुचारू बनाये रखने के निर्देश दिए।

नहर बंदी के दौरान 60 दिन बेहतर पेयजल वितरण बनाये रखें

जिला कलक्टर ने बैठक में कहा कि सोमवार से नहरबंदी शुरू हो गयी है। किसी तरह की किल्लत नहीं रहेगी। शहर में कायलाना, सुरपुरा बांध तख्त सागर में जल संग्रहण पर्याप्त कर लिया गया है। ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल संग्रहण कई स्थानों पर किया गया है। समस्या ग्रस्त ग्रामीण क्षेत्रों में टेंकर द्वारा जल आपूर्ति रहेगी।

जोधपुर शहर में पेयजल व्यवस्था सुचारू रखने के दिए निर्देश

जिला कलक्टर ने नहरबंदी व गर्मी के मौसम को देखते हुए जोधपुर शहर में पेयजल आपूर्ति सुचारू बनाये रखने के सभी उपायुक्त को अपने नगर निगम क्षेत्र में पेयजल स्रोत का आंकलन कर प्रत्येक वार्ड में पेयजल का वितरण सुचारू रूप से कराएं। इसके लिए शहर में समय-समय पर जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक भी करें। उन्होंने कहा कि 1 अप्रेल से 15 जुलाई तक की कार्ययोजना तैयार कर व जिन वार्डो में पेयजल व्यवस्था में समस्या हो वहां पानी के टेंकर की व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। पीएचईडी शहर कार्यालय में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाए।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति के यह दिए निर्देश

जिला कलक्टर ने जिले में नहरबंदी व गर्मी के मौसम के दौरान पेयजल आपूर्ति सुचारू बनाये रखने के लिए सभी उपखण्ड अधिकारियों का उपखण्ड के पेयजल स्रोत का आंकलन करके प्रत्येक राजस्व गांव व ढाणी में पेयजल वितरण सुचारू रखने के निर्देश दिए। उपखण्ड स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किया जाए। उपखण्ड में 1 अप्रेल से 15 जुलाई तक की कार्ययोजना तैयार कर जिन राजस्व गांवों व ढाणी में पेयजल व्यवस्था शून्य मात्रा में है वहां टेंकर से पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ग्राम स्तर पर पेयजल व्यवस्था के लिए गठित ग्राम स्तरीय कोर कमेटी को सक्रिय किया जाए। जिन राजस्व गांव व ढाणी में पेयजल वितरण व्यवस्था शून्य से 50 प्रतिशत तक है उनका चिन्हिकरण कर पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित कराएं।

नगर निगम के यह अधिकारी देंगें वार्ड वार सूचना

जिला कलक्टर ने बताया कि जोधपुर नगर निगम दक्षिण वार्ड 1 से 20 तक अतिरिक्त आयुक्त बजरंग सिंह, वार्ड 21 से 40 उपायुक्त शेलेन्द्र सिंह, वार्ड 41 से 60 तक उपायुक्त रोहित कुमार, वार्ड 61 से 80 तक उपायुक्त अदिति पुरोहित, नगर निगम उत्तर में वार्ड 1 से 26 तक अतिरिक्त आयुक्त राकेश कुमार गढवाल, वार्ड 27 से 52 उपायुक्त विवेक व्यास, वार्ड 53 से 80 उपायुक्त आकांक्षा बैरवा जोधपुर शहर में पेयजल समस्या से संम्बधित वार्ड वार सूचना प्रस्तुत करेंगे।

जिले में टेंंकर से पेयजल वितरण के कार्यादेश जारी

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले में समस्या ग्रस्त क्षेत्रों को चिन्हित कर उनके लिए टेंकरों से पेयजल आपूर्ति टेंडर कर कार्यादेश जारी कर दिए गए। उन्होंने बैठक में सभी उपखण्ड अधिकारियों व विकास अधिकारियों से टेंकर ट्रांसपोर्ट चालू करने के बारे में जानकारी ली।

पेयजल वितरण के पानी की चोरी रोकें

जिला कलक्टर ने सभी उपखण्ड अधिकारियों को वीसी में निर्देश दिऐ कि नहरबंदी के दौरान गर्मी में पेयजल वितरण सिस्टम पर पूरी निगरानी रखें व कही भी चोरी नही होने दें। लगातार पेट्रोलिंग करें। इसमें उपखण्ड प्रशासन पुलिस व पीएचईडी मिलकर पेट्रोलिंग कराएं।

विधवा पेंशन का लाभ दिलावे

जिला कलक्टर ने वीसी में उपखण्ड अधिकारियों से कहा कि ऐसी महिलाओं जो 75 वर्ष से उपर हैं व जिन्हे वृद्धावस्था पेंशन मिल रही लेकिन उनके पति के देहान्त हो जाने पर उन्हें विधवा पेंशन प्रतिमाह पन्द्रह सौ रूपये मिल सके इसके लिए उन्हें विधवा पेंशन का लाभ देने के लिए उसमें पात्र मानकर शीघ्र ऐसी 3200 महिलाओं का लाभांवित कराएं।

एनएफएस ए परिवार के 3688 महिला पुरूषों को पेंशन से जोड़ें

जिला कलक्टर ने वीसी में कहा कि जिले में एनएफएसए परिवार के 55 वर्ष की महिला व 58 वर्ष के पुरूष जिनकी संख्या 3688 है जिन्हें पेंशन नहीं मिल रही उन्हें पेंशन से जोड़ना है। इसके लिए पूरे जिले में एक दिन तय कर इनको लाभांवित कराएं।

मोबाइल टावर के पेडिंग मामले निपटाएं

जिला कलक्टर ने जिले में जहां कहीं मोबाइल टॉवर की अर्जी पेडिंग है उसका समय पर निस्तारण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा तीन दिन में इसका निस्तारण करें ताकि राजस्व हानि रोकी जा सके। इनकी अर्जी चेककर नियमानुसार निस्तारित करें।

15 करोड़ की राशि का समायोजन करें

जिला कलक्टर ने बैठक में कहा कि जेजेवाई के तहत पानी व बिजली के अनटाइड पैसे का यूज नहीं कर रहे हैं, इसका यूज करें ताकि अगली किश्त मिले। उन्होंने कहा कि डीडीपी योजना में 15 करोड़ की राशि का समायोजन बांकी है इसको आने वाले दो सप्ताह में प्राथमिकता से निपटाएं।

ग्राम पंचायत भवन निर्माण कार्य पूर्ण करें

जिला कलक्टर ने बैठक में ग्राम पंचायतों के भवन निर्माण के स्वीकृत कार्यो को शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने मनरेगा में कार्य दिवस और बढाने के भी निर्देश दिए।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज की योजनाओं, प्रधानमंत्री आवास योजना के स्वीकृत कार्यो को शीघ्र पूर्ण कराने के भी निर्देश दिए।

बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद अभिषेक सुराणा ने जिले में ग्रामीण विकास व पंचायती राज की योजना की प्रगति व लम्बित कार्यो के बारे में जानकारी दी। अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रथम मदनलाल नेहरा, एडीएम हेमेन्द्र नागर सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। वीसी में जिले के सभी उपखण्ड अधिकारी विकास अधिकारी जुड़े थे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews