भगतसिंह ने देश के युवाओं में क्रांति की भावना जगाई-पंवार

भगतसिंह ने देश के युवाओं में क्रांति की भावना जगाई-पंवार

मशाल जुलूस निकाल कर आर्य वीरों ने शहीदों को दी श्रदांजलि

जोधपुर,भगतसिंह ने देश के युवाओं में क्रांति की भावना जगाई-पंवार। आर्य वीर दल जोधपुर के तत्वावधान में शहीदे आज़म भगतसिंह बलिदान दिवस के अवसर पर शनिवार को मशाल जुलुस निकाला गया। जुलूस सोजती गेट राजीव गांधी सर्कल पर संपन्न हुआ। जालोरी गेट चौराहे पर मशाल प्रज्ज्वलित करते हुए शहर विधायक मनीषा पंवार ने कहा कि जंगे आज़ादी का सबसे कम उम्र के युवा क्रांतिकारी और युवाओं के प्रेरक शहीदे आज़म भगतसिंह ने आर्य समाज से प्रेरणा लेकर देश के लिए बलिदान दिया। इस दौरान जालोरी गेट युवा ग्रुप की तरफ से पुष्प वर्षा से स्वागत किया गया।

यह भी पढ़ें – गायों के बाड़े में छुपाकर रखा एक करोड़ का गांजा बरामद

पूर्व राज्य मंत्री राजेंद्र सोलंकी,नगर निगम उतर महापौर कुन्ती परिहार ने कार्यक्रम की सराहना की। जुलूस जालोरी मुख्य चौराहा से नई सड़क राजीव गांधी चौराहा तक शहीदों के जयकारों और देशभक्ति गीतों के साथ मशाल जुलूस का सुव्यवस्थित आयोजन किया गया। इस दौरान मार्ग में रेलवे यूनियन,व्यापारी संगठनों सहित कई जगह फूलों की वर्षा कर जुलूस का स्वागत किया।कार्यक्रम में उपप्रधान नारायण सिंह आर्य ने कहा कि शहीद भगत सिंह और आर्य समाज का गहरा रिश्ता रहा है। भगत सिंह के दादा सरदार अर्जुन सिंह महर्षि दयानंद सरस्वती के अनन्य भक्त थे और लाहौर आर्य समाज के प्रधान थे।आर्य समाज व क्रांतिकारियों की बैठकें भगतसिंह के घर मे होती थी तो प्रारम्भिक संस्कारों से ही देश भक्ति से प्रेरित रहे।

भगतसिंह ने पूरे देश में आजादी की लहर फैला दी उनसे प्रेरित होकर हजारों युवा देश के लिए फांसी के दामन को हंसते हुए पहनने लगे और शहीदों की शहादत से देश 1947 को आज़ाद हो गया। नगर निगम प्रतिपक्ष नेता गणपत सिंह चौहान ने कहा कि आज के युवाओं को चाहिए कि देश की आज़ादी,भाईचारे,अमन,प्रेम को बनाये रखे और शहीदों की शहादत को आपसी द्वेष से व्यर्थ न जाने दे। आर्य वीर दल राजस्थान के अधिष्ठाता संचालक भंवरलाल आर्य, हरीसिंह आर्य,उम्मेद सिंह,जितेंद्र सिंह ने कहा कि कर्मयोगी मदनसिंह आर्य और कर्मवीर रामसिंह आर्य की प्रेरणा से आज भी आर्य वीर दल भगतसिंह के सपनों को साकार करने को हर संभव प्रयासरथ है,चाहे वो धर्म से हो,नशा मुक्ति या फिर जन विरोधी कार्यो के खिलाफ हमेशा क्रांतिकारी आंदोलन करने का रहा है। इस नक्शे कदम पर आर्य वीर दल निरन्तर चलता रहेगा। विक्रम सिंह आर्य ने देश भक्ति तराने से माहौल को क्रान्तिमय कर दिया। अतिथियों की मौजूदगी में जुलूस ऊँ ध्वज,शहीदों के जयकारों के नारे हाथ में लेकर जालोरी गेट से रवाना होकर महात्मा ग़ांधी हॉस्पिटल से रणछोड़ जी मंदिर होते हुए रेलवे स्टेशन, सोजती गेट,नई सड़क पहुच कर सम्पन्न हुआ। इस दौरान मदनगोपाल आर्य,जितेंद्र सिंह आर्य व पूनम सिंह शेखावत, प्रधान गणपत सिंह आर्य, द्वारका प्रसाद,गजेसिंह,विष्णुप्रकाश भाटी,भंवरलाल हटवाल सहित अन्य कई लोग मौजूद थे।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts